Home क्राइम एंटी रोमियो के बाद अब शेरनी दस्ता भी होगा तैनात

एंटी रोमियो के बाद अब शेरनी दस्ता भी होगा तैनात

यूपी में लड़कियों और महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने वाले शोहदों के खिलाफ कार्रवाई के लिए एंटी रोमियो स्‍क्‍वायड के अलावा अब शेरनी दस्‍ता भी तैनात होगा। शोहदों की अब खैर नहीं है। बाजार, मॉल या फिर धार्मिक स्थलों पर इस दस्‍‍‍‍ते की तैनाती होगी। किसी शोहदे ने गुस्ताखी की तो महिला सिपाहियों का शेरनी दस्ता उन पर टूट पड़ेगा। शहर के बाजार, भीड़-भाड़ वाले चौराहे, प्रमुख धार्मिक स्थल, एटीएम, मॉल सहित उन प्रमुख स्थानों पर जहां महिलाओं का आना-जाना होता है वहां शेरनी दस्ता मौजूद रहेगा। एसएसपी जोगेन्द्र कुमार ने दस्ते का ड्यूटी चार्ट बनाने का निर्देश दिया है जो जल्द ही लागू कर दिया जाएगा।महिला अपराधों को लेकर पहले से सख्त मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा भांप कर इस दिशा में पुलिस और सख्ती कर रही है। बाजार खुलने लगे हैं दुकानों पर भीड़ आने लगी है। नवरात्र आने वाला है। स्कूल-कॉलेज और कोचिंग सेंटर भी खुलने वाले हैं। महिलाएं खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें और इसके लिए अब शेरनी दस्ते की सड़कों पर तैनाती की जा रही है। सुबह दस बजे से रात के 8.30 बजे तक शेरनी दस्ता सड़कों पर मुस्तैद रहेगा। इस दस्ते का हर दो घंटे पर लोकेशन भी लिया जाएगा।
शेरनी दस्ते में शामिल महिला सिपाहियों को किस प्रकार से एक्शन लेना है और कैसे व्यवहार करना है। कोविड-19 महामारी के दौरान किस तरीके से खुद को सुरक्षित रहते हुए बेहतर तरीके से ड्यूटी करें। महिला व बच्चों से जुड़े अपराध के मामलों को कैसे हैंडल करें। एंटी रोमियो अभियान में क्या ध्यान देना है, किन धाराओं के तहत कार्रवाई की जा सकती है। विषम परिस्थितियों में यदि स्कूटर खराब हो जाए तो कैसे दुरुस्त किया जा सकता है। ऑपरेशन के दौरान लाठी का प्रयोग, वायरलेस का प्रयोग कैसे और कब करें। इसे लेकर तीन दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

- Advertisment -

Most Popular

जहरीली शराब पीने से चार की मौत, 6 की हालत गंभीर

रायबरेली : उत्‍तर प्रदेश के रायबरेली के महाराजगंज कोतवाली क्षेत्र के पहाड़पुर गांव में शराब पीने से चार लोगों की मौत...

भाजपा में बगावत, पूर्व MLA सतीश वर्मा ने बसपा से ठोकी ताल

हरदोई : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, वैसे वैसे दल- बदल का खेल तेज हो गया है।...

‘स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी’: समानता के लिए काम करने वाले संत रामानुजाचार्य को एक सच्ची श्रद्धांजलि

HBN: 11वीं सदी के सुधारक और वैष्णव संत, श्री रामानुज (रामानुजाचार्य)की 216 फीट ऊंची 'स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी' पर काम तेजी से चल...

समस्त निर्वाचन कार्मिकों को कोविड टीकाकरण का बूस्टर डोज प्रशिक्षण कक्ष में ही कराये जाने की व्यवस्था की जा रही हैः-आकांक्षा राना

हरदोई : मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी कार्मिक, कार्मिक एवं प्रशिक्षण आकांक्षा राना ने बताया है कि विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 में...
Translate »