Home क्राइम जरूरतमंदों को दाह संस्कार के लिए मिलेंगे 5000

जरूरतमंदों को दाह संस्कार के लिए मिलेंगे 5000

उन्नाव। ग्रामीण क्षेत्र के कोविड संक्रमित और जरूरतमंद लोगों की किसी भी प्रकार से मौत होने पर दाह संस्कार के लिए पांच हजार रुपये मिलेंगे।

यह भी पढ़ें – कब से शुरू होगीं ऑनलाइन क्लासेज

जिला पंचायतराज अधिकारी राजेंद्र प्रसाद यादव ने बताया कि दाह संस्कार में लगने वाली लकड़ी का भुगतान टाल वाले को किया जाएगा। शेष पैसा आश्रित के खाते में भेजा जाएगा। सामान्य शव के दाह संस्कार के लिए तीन क्विंटल लकड़ी लगती है। ऐसे में इतनी लकड़ी का भुगतान टाल वाले के खाते में किया जाएगा। शेष बची धनराशि मृतक आश्रित के खाते में भेजी जाएगी। धनराशि देने के लिए हर घाट पर एक कर्मचारी की ड्यूटी लगाई गई है। कर्मचारी को ब्लाकवार एडीओ पंचायत व ग्रामवार सचिवों के मोबाइल नंबरों सहित सूची दी गई है।

यह भी पढ़ें – UP में किसको मिलेगा भरण पोषण भत्ता

जिले में 21 घाटों पर शवों का अंतिम संस्कार होता है। मृतक आश्रित कर्मचारी से लकड़ी के लिए संपर्क करेगा तो वह संबंधित ग्राम पंचायत के सचिव से बात करके उसकी आर्थिक स्थिति की जानकारी करेगा। सचिव द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर कर्मचारी मृतक के शवों के दाह संस्कार के लिए लकड़ी की व्यवस्था कराएगा। इसके बाद आश्रित का खाता नंबर लेकर उसमें शेष बची धनराशि ट्रांसफर कर देगा।

देश की हर नौकरी की खबर आप तक सबसे पहले आपकी अपनी एप्प “रोजगार अलर्ट “पर

डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें

- Advertisment -

Most Popular

मुख्य विकास अधिकारी द्वारा टीकाकरण बूथों का आकस्मिक निरीक्षण किया गया

ग्राम कमरौली में अनुपस्थित पंचायत सहायक के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिये गये हरदोई : आज मुख्य विकास अधिकारी...

शर्मनाक: मां को जान से मारने की धमकी देकर बेटी से करता था दुष्कर्म

HBN: राजस्थान के उदयपुर में कलयुगी बाप का घिनौना चेहरा सामने आया है। यहां एक शख्स अपनी ही बेटी को डरा-धमकाकर उसके...

अगले 2 दिनों में भीषण ठंड के साथ ही घना कोहरा

सर्दी का सितम: दिल्ली, यूपी और हरियाणा समेत उत्तर भारत को 2 दिन बहुत सताएगी सर्दी, घना कोहरा भी बढ़ाएगा टेंशन

शख्स ने खरीदी 4 करोड़ की व्हिस्की, जानिए क्या है खास

HBN: कुछ लोग महंगी शराब पीने के शौकीन होते हैं, इसके लिए वे हर कीमत चुकाने को भी तैयार हो जाते हैं।...

Recent Comments

Translate »