Home हरदोई संडीला:पालिका द्वारा गृहकर व जल कर की नोटिसें भेजे जाने से लोग...

संडीला:पालिका द्वारा गृहकर व जल कर की नोटिसें भेजे जाने से लोग भड़के

हरदोई -संडीला: पालिका द्वारा कई वार्डों की सड़कों को न बनवाने और पीने के पानी की भारी किल्लत के चलते लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। इस बीच गृहकर व जलकर की नोटिसें भेज देने से लोग भड़क गए हैं।

वार्डों में जन सुविधाओं का टोटा होने के बावजूद पालिका द्वारा लोगों को गृहकर व जलकर की भारी भरकम नोटिसें भेजने के विरोध में लोग पालिका के खिलाफ लामबंद होते जा रहे हैं। बुधवार को सभासद अर्चना अस्थाना के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोगों ने पालिका दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया। चेयरमैन व ईओ के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सभासद ने बाद में ईओ को एक ज्ञापन भी दिया गया।

यह भी पढ़ें – निर्माण कार्य समय से शुरू न करने पर डीएम नाराज, दी चेतावनी

कैनाल रोड सुम्बाबाग निवासी श्रीपाल, गुफरान, अनिल, अशोक, मोतीलाल, रामसिंह, नफीसा, सतीश व प्रभावती आदि ने कहा कि उनके मोहल्ले की सड़क पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है। हल्की बरसात में भी भारी जलभराव व कीचड़ के चलते लोगों का निकलना मुश्किल हो जाता है। कई साल से सड़क की मरम्मत तक नहीं कराई गई है। अधिकारियों को भी समस्या से अवगत कराया गया। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई।

यह भी पढ़ें – भीड़ ने किया सड़क जाम, पुलिस पर किया पथराव, 15 पुलिसकर्मी लहूलुहान

आरोप है कि मोहल्ले में पालिका द्वारा जलापूर्ति के लिए कहीं भी पाइप लाइनें तक नहीं डाली गई हैं। मोहल्ले वासियों को कोई सुविधाएं मुहैया नहीं कराई जा रही हैं। फिर भी पालिका ने गृहकर व जलकर की भारी भरकम नोटिसें भेज दी हैं। जिससे लोगों में आक्रोश है। उनका कहना है कि पालिका पहले मोहल्ले की सड़कें बनवाएं। पाइप लाइनें बिछाकर पूरे मोहल्ले में जलापूर्ति कराना सुनिश्चित करें। उसके बाद ही गृहकर व जलकर वसूलने की बात करें।

देश की हर नौकरी की खबर आप तक सबसे पहले आपकी अपनी एप्प “रोजगार अलर्ट “पर

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.hdibharat.rojgaralert
- Advertisment -

Most Popular

डीएम अविनाश कुमार, सीडीओ आकांक्षा राना समेत 126 महादानियों ने किया रक्तदान

हरदोई। अमर उजाला फाउंडेशन के तत्वावधान में बुधवार को आयोजित रक्तदान शिविर में 126 महादानियों ने रक्तदान कर समाज को जनहित में...

क्या है ‘ग्लू ग्रांट’ (Glue Grant) योजना व ‘मेटा विश्‍वविद्यालय’ (Meta University)अवधारण?

चालीस केंद्रीय विश्वविद्यालय अकादमिक क्रेडिट बैंक व यूजी पाठ्यक्रमों में बहु-विषयक (multidisciplinary) को प्रोत्साहित करने के लिए ग्लू ग्रांट (Glue Grant) जैसे...

रोजा-इफ्तार कराने वाले लगा रहे संगम में डुबकी:उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य

हरदोई : रसखान प्रेक्षागृह में पांच अरब 96 करोड़ 95 लाख रुपये की 159 कार्यों की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने...

65 बाघों का घर, पीलीभीत टाइगर रिजर्व, Pilibhit Tiger Reserve

पीलीभीत बाध अभयारण्य उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में स्थित है और 2014 में इसे टाइगर रिजर्व के रूप में अधिसूचित किया...

Recent Comments

Translate »