Home धर्म आस्था शुभ विचार: अनुचित कर्म हो जाने पर दोष स्वीकार करना साधु पुरुष...

शुभ विचार: अनुचित कर्म हो जाने पर दोष स्वीकार करना साधु पुरुष का काम है।


आग से कोई आग को नहीं बुझा सकता। जिस प्रकार आग बुझाने के लिए पानी की आवश्यकता है, उसी प्रकार दोष दूर करने के लिए सत्य की आवश्यकता है। अनुचित कर्म करके दोष स्वीकार करना साधु पुरुष का काम है। जो लोग दोष छिपाते हैं उन्हें चोर समझना चाहिए। जो अपना दोष जितना ही छिपाने की चेष्टा करता है, उतना ही वह अपने को और दोषी बनाता है। अपने दोषों को छिपाकर कोई साधु नहीं कहला सकता। साधु तभी कहला सकता है, जब वह साफ-साफ अपना दोष प्रकट कर दे और अपने किए हुए दोषों पर पश्चाताप करे। दोष छिपाने के लिए झूठ बोलना, एक दोष के रहते दूसरा दोष करने के बराबर है। दोष से दोष का उद्धार कभी नहीं हो सकता। जिनमें मानसिक बल नहीं है, वे ही अपना दोष स्वीकार करने में थरथराते हैं। वे यह नहीं सोचते कि अपराध स्वीकार करना हृदय की दुर्बलता न होकर हृदय का महत्व है। अपना दोष प्रकट कर देने ही से मनुष्य निर्दोष होता है, उसके मन को शांति प्राप्त होती है, चरित्र निर्मल होता है और अयश के बदले सुयश प्राप्त होता है। हमें भली-भांति याद रखना चाहिए कि एक झूठ के छिपाने के लिए दूसरे झूठ की आवश्यकता पड़ती है, अर्थात जहाँ अपने दोष को छिपाने के लिए मुँह से एक बार झूठ निकली, वहाँ दूसरी झूठ आपसे आप आ खड़ी होती है और यही वस्तु मनुष्य के मानसिक तथा पारलौकिक पतन का कारण होती है। जिस प्रकार पर-दोष-दर्शन बुरा है, उसी प्रकार अपने दोषों का छुपाना भी बुरा है।

  • अखंड ज्योति जून 1945 पृष्ठ 17
- Advertisment -

Most Popular

वरुण गांधी ने फिर किया किसानों के समर्थन में ट्वीट

पीलीभीत। भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी का ताजा ट्वीट सियासी हलकों के साथ किसान संगठनों और किसानों के बीच एक...

भाजपा किसी को भी आतंकी बना सकती है: डिंपल यादव

वाराणसी : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव विजयदशमी के दिन मां विंध्यवासिनी के...

हाईवे पर कारों की भिड़ंत में एक की मौत, 9 घायल

सीतापुर: कोतवाली सिधौली इलाके में शुक्रवार को दो कारों की आमने सामने जोरदार भिड़ंत में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि...

अधिवक्ता के पुत्र की हत्या कर मांगी 50 लाख की फिरौती,दो आरोपी गिरफ्तार

बाराबंकी: फिरौती के लिए एक अधिवक्ता के नाबालिग पुत्र की दो युवकों ने हत्या कर दी। इसकी सूचना पर सक्रिय हुई पुलिस...

Recent Comments

Translate »