Home हरदोई सभी रैन बसेरों को तत्काल क्रियाशील कर दिये जाये:- ए0डी0एम0

सभी रैन बसेरों को तत्काल क्रियाशील कर दिये जाये:- ए0डी0एम0

सड़क, पटरी, अस्पताल, बस, रेलवे स्टेशन, बाजार में कोई भी असहाय व्यक्ति खुले में न लेटे:- अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह

हरदोई, 11 नवम्बर 2020:- अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने नगर क्षेत्र के लिए नगर मजिस्ट्रेट, सीओ सिटी, समस्त उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी नगर निकाय को निर्देश दिये है कि सभी रैन बसेरों को तत्काल क्रियाशील कर दिये जाये तथा यह भी सुनिश्चित करे कि सार्वजनिक स्थानों जैसे- सड़क, पटरी, अस्पताल, बस व रेलवे स्टेशन, बाजार आदि में कोई भी असहाय व्यक्ति खुले में न लेटे इसके लिए सभी मजिस्टेªट व क्षेत्राधिकारी अपने क्षेत्रों में पेट्रोलिंग कराकर यह सुनिश्चित कराये कि कोई भी व्यक्ति यदि खुले में लेटा पाया जाये तो उसे तत्काल रैन बसेरा में पहुंचायें और शासनादेश का पालन करते हुए संयुक्त आख्या प्रतिदिन उन्हें भी उपलब्ध करायें

रैन बसेरों में रूकने वाले कमजोर लोगों को ठण्ड से बचाने के लिए गद्दे, कम्बल, स्वच्छ पेयजल, शौचालय एवं किचन आदि की व्यवस्था कराये:- अपर जिलाधिकारी
कोविड-19 के दृष्टिगत रैन बसेरों में सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन कराते हुए प्रत्येक दिन सैनेटाइजर कराया जाये तथा रैन बसेरा में आने वाले लोगों के लिए निःशुल्क मास्क दिये जाये:- संजय कुमार सिंह

अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने मुख्य चिकित्साधिकारी, नगर मजिस्टेªट, समस्त उप जिलाधिकारी, तहसीलदार, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर निकाय एवं जिला पूर्ति अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत प्रथम, द्वितीय को निर्देश दिये है कि ठण्ड एवं शीतलहरी से उत्पन्न होने वाली समस्याओं के दृष्टिगत जनपद में आश्रयहीन व्यक्तियों हेतु रैन बसेरों की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करायें ताकि कोई भी निराश्रित, असहाय एवं कमजोर वर्ग के व्यक्ति रात में सड़क अथवा फुटपाथ पर सोने के लिए बाध्य न हो।
उन्होने कहा है कि रैन बसेरों में शेल्टर होम में रूकने वाले कमजोर वर्ग के लोगों को ठण्ड से बचाने के लिए आवश्यक गद्दे, कम्बल, स्वच्छ पेयजल, शौचालय एवं किचन आदि की व्यवस्था निःशुल्क कराना सुनिश्चित कराने के साथ रैन बसेरों के आस-पास अलाव जलाने की भी व्यवस्था करायें और रैन बसेरों में एक केयर टेकर तैनात किया जाये जिसका नाम, पदनाम, मोबाइल नम्बर रैन बसेरा गेट पर जरूर लिखवायें तथा नामित वरिष्ठ अधिकारी रात में रैन बसेरों का औचक निरीक्षण करें एवं निरीक्षण के दौरान केयर टेकर के पास उपस्थित रजिस्टर पर निरीक्षण टिप्पणी अवश्य अंकित करेें। अपर जिलाधिकारी ने कहा है कि चिकित्सालयों, बस, रेलवे स्टेशनों एवं श्रमिकों के कार्य स्थलों व बाजारों में अनिवार्य रूप से रैन बसेरे संचालित किये जाये ताकि ऐसे जरूरतमंद व्यक्तियों जिनके पास ठहरने की सुविधा नहीं है और विशेष रूप से जो चिकित्सा एवं रोजगार आदि के लिए बाहर से आये है उन्हें खुले में फुटपाथ, सड़कों के डिवाइडर पर न सोना पडे़, उन्हेें रैन बसेरा में रहने की सुविधा उपलब्ध करायें तथा रैन बसेरा में समस्त सुविधायें अच्छी व गुणवत्ता पूर्ण हों और इनमें साफ-सफाई, साफ सुथरे बेड शीट, कम्बल, गरम पानी तथा सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की जाये।
अपर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये है कि कोविड-19 के दृष्टिगत रैन बसेरों में सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन कराते हुए प्रत्येक दिन सैनेटाइजर कराया जाये तथा रैन बसेरा में आने वाले लोगों के लिए निःशुल्क मास्क की व्यवस्था करने के साथ महिलाओ एवं पुरूषों की अलग सोने व शौचालय की व्यवस्था की जाये तथा जहां रैन बसेरा स्थापित उन स्थानों का व्यापक प्रचार-प्रसार करायें और शासन के निर्देशानुसार प्रतिदिन सभी रैन बसेरों के आस-पास अलाव जलाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की करायें और कमजोर वर्ग के लोगों के शीत लहर से बचाव के लिए शीघ्र रैन बसेरों का संचालन प्रारम्भ करायें और उक्त निर्देशों का कड़ाई से पालन करायें।

5000 कम्बलों के क्रय हेतु जेम पोर्टल के माध्यम से निविदाएं आमंत्रित:- ए0डी0एम0

अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने अवगत कराया है कि शासन के निर्देशानुसार शीतलहरी, ठण्ड, पाला के दौरान निराश्रित, असहाय, कमजोर एवं गरीब परिवारों को राहत हेतु वितरित किये जाने 5000 कम्बलों का क्रय शासन द्वारा निर्धारित दर, मानक एवं गुणवत्ता के आधार पर जेम पोर्टल के माध्यम से किया जायेगा, जिसमें कम्बल की अधिकतम दर मु0-500 रूपये, लम्बाई कम से कम 235 से0मी0, चौड़ाई 140 से0मी0 तथा वनज 2 किलो 200 ग्राम व ऊन की मात्रा 70 प्रतिशत होगी।
उन्होने कहा है कि केवल ऊनी कम्बल की पूर्ति हेतु जेम पोर्टल पर खुली बिड (जेम निविदा) श्रेणी में निविदा आमंत्रित की गयी है, जिसमें शासन के निर्देशानुसार उ0प्र0 राज्य हथकरघा निगम लि0, यूपिका, उ0प्र0 खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के माध्यम से उनके द्वारा वित्त पोषित एवं प्रमाणित संस्थायें, श्री गांधी आश्रम तथा उ0प्र0 हस्तशिल्प विकास एवं विपणन निगम ही निविदा के लिए वैद्य होगीं और निहित शर्तो एवं निर्धारित क्रय प्रक्रिया के तहत आपूर्ति संस्था का चयन किया जायेगा। श्री सिंह ने कहा है कि उक्त संस्थाओं से जेम पोर्टल के माध्यम से निविदाएं आमंत्रित है, अधिक जानकारी एवं विवरण हमउण्हवअण्पद से डाउनलोड कर प्राप्त करें।

- Advertisment -

Most Popular

वरुण गांधी ने फिर किया किसानों के समर्थन में ट्वीट

पीलीभीत। भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी का ताजा ट्वीट सियासी हलकों के साथ किसान संगठनों और किसानों के बीच एक...

भाजपा किसी को भी आतंकी बना सकती है: डिंपल यादव

वाराणसी : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव विजयदशमी के दिन मां विंध्यवासिनी के...

हाईवे पर कारों की भिड़ंत में एक की मौत, 9 घायल

सीतापुर: कोतवाली सिधौली इलाके में शुक्रवार को दो कारों की आमने सामने जोरदार भिड़ंत में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि...

अधिवक्ता के पुत्र की हत्या कर मांगी 50 लाख की फिरौती,दो आरोपी गिरफ्तार

बाराबंकी: फिरौती के लिए एक अधिवक्ता के नाबालिग पुत्र की दो युवकों ने हत्या कर दी। इसकी सूचना पर सक्रिय हुई पुलिस...

Recent Comments

Translate »