Home देश इस प्रदेश में बिना डिप्टी स्पीकर के 2 साल से चल रही...

इस प्रदेश में बिना डिप्टी स्पीकर के 2 साल से चल रही विधानसभा

HBN: मध्य प्रदेश विधानसभा दो साल से बिना डिप्टी स्पीकर के चल रही है और यह मुद्दा 7 मार्च से शुरू होने वाले बजट सत्र के बीच फिर से तूल पकड़ने वाला है। मार्च 2020 में जब कांग्रेस सत्ता में थी, उस दौरान हीना लिखीराम कावरे विधानसभा की अंतिम उपाध्यक्ष थीं। उसके बाद भाजपा सत्ता में लौटी और पद खाली हो गया।

आपको बता दें कि विधानसभा का डिप्टी स्पीकर न केवल अध्यक्ष की अनुपस्थिति में सदन के सत्रों की अध्यक्षता करता है, बल्कि महत्वपूर्ण समितियों का भी नेतृत्व करता है। इसके साथ ही वह मीडिया गैलरी अडवाइजरी कमेटी और विधायकों के बीच समन्वयक के रूप में काम करता है। इतना ही नहीं, वह विधायकों के वेतन और भत्तों के संशोधन के लिए समिति का प्रमुख भी होता है।

अध्यक्ष के पास उपाध्यक्ष की अनुपस्थिति में अन्य वरिष्ठ विधायकों को यह जिम्मेदारी सौंपने की शक्ति है। नवंबर 2018 के विधानसभा चुनावों के बाद, कांग्रेस ने विपक्ष को डिप्टी स्पीकर की कुर्सी देने की मध्य प्रदेश विधानसभा की 29 साल पुरानी परंपरा को तोड़ते हुए जनवरी 2019 में डिप्टी स्पीकर के पद पर कब्जा किया था और हीना लिखीराम कावरे डिप्टी स्पीकर चुनी गई थीं।

1990 के दशक में शुरू हुई थी यह परंपरा

1990 के दशक में स्थापित मप्र विधानसभा की परंपरा के अनुसार, अध्यक्ष की नियुक्ति सत्ता पक्ष द्वारा की जाती है, जबकि उपाध्यक्ष का पद विपक्ष को दिया जाता है। हालांकि, 109 विधायकों के साथ, भाजपा 2019 में सदन में अपनी ताकत दिखाना चाहती थी और अध्यक्ष पद के लिए चुनाव की मांग की। जब यह पद कांग्रेस के पास गया, तो भाजपा ने अपने उम्मीदवार, निवर्तमान मंत्री जगदीश देवरा को डिप्टी स्पीकर पद के लिए भी प्रस्तावित करने का फैसला किया। लेकिन हीना डिप्टी स्पीकर चुनी गईं।

मार्च 2020 से खाली है पद

मार्च 2020 में ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस के 22 विधायकों के साथ भाजपा में शामिल होने के बाद भाजपा सत्ता में लौट आई। तब से डिप्टी स्पीकर का पद खाली है। राज्य सचिवालय के अधिकारियों ने कहा कि यह संभवत: सबसे लंबे समय के लिए है कि एमपी विधानसभा डिप्टी स्पीकर के बिना चल रही है। विधानसभा का बजट सत्र इस साल 8-25 मार्च तक चलेगा। कोविड महामारी फैलने के बाद पहली बार, बिना किसी कोरोना प्रतिबंध के पहले की तरह विधानसभा में काम होगा।

यह भी पढ़ें : जब स्कूल में घुस गया भारी भरकम अजगर,मचा हड़कंप

- Advertisement -

लेटेस्ट

 राजस्थान : गैंगस्टर राजू ठेठ की गोली मारकर हत्या, लॉरेंश गैंग के हिस्ट्रीशीटर रोहित गोदारा ने ली जिम्मेदारी

राजस्थान के सीकर में एक बार फिर से गैंगवार की घटना सामने आई है. बताया जा रहा है कि गैंगस्टर राजू ठेठ...

भीषण हादसा: जयपुर हाईवे पर ट्रक से टकराई कार, 4 बरातियों की मौत

आगरा: फतेहपुर सीकरी में शनिवार सुबह तड़के भीषण सड़क हादसा हो गया। फतेहपुर सीकरी टोल प्लाज के निकट आगरा-जयपुर हाईवे पर बरातियों...

उन्नाव सड़क हादसा: हाईवे पर डंपर से भिड़े 2 ट्रक, तीनो ड्राइवरों की जलकर मौत

उन्नाव: कानपुर-लखनऊ हाईवे पर कोहरे के चलते आगे चल रहे डंपर में पीछे से तेज रफ्तार दो ट्रक भिड़ने से एक बड़ा...

हरदोई: 56 मैरिज लॉन, होटल, धर्मशाला संचालकों को नोटिस, जाने क्या है वजह?

हरदोई। 56 मैरिज लॉन, होटल, धर्मशाला संचालकों को सिटी मजिस्ट्रेट ने नोटिस जारी किए गए हैं। जिसमे 30 दिन में पंजीकरण कराने...