Homeदेशभारत के हाथ लगा 3,384 अरब का Lithium खजाना, चीन की नींद उड़ी

भारत के हाथ लगा 3,384 अरब का Lithium खजाना, चीन की नींद उड़ी

देश में पहली 5.9 मिलियन टन लिथियम (Lithium) का भंडार मिला है. कम से कम 3,384 अरब रुपये की मूल्य वाले इस लिथियम भंडार से देश को कई फायदे होंगे. लिथियम का प्रयोग कार, फोन, लैपटॉप और दूसरे रिचार्जेबल बैटरी (लिथियम आयन बैटरी) में होता है. जिस समय पूरी दुनिया ग्रीन एनर्जी पर शिफ्ट हो रही है, उस वक्त देश में लिथियम (Lithium) का भंडार मिलना किसी लाटरी से कम नहीं है.

देश में पहली बार जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में लिथियम का बहुत बड़ा भंडार मिला है. लिथियम के भंडार की यह अभी पहली साइट है, जिसकी भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (GSI) ने रियासी जिले में पहचाना है. GSI को पहली बार जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले के सलाल-हैमाना क्षेत्र में 5.9 मिलियन टन के लिथियम (Lithium) अनुमानित खजाना मिला हैं.

Lithium एक अलौह (जिसमे लोहा नहीं होता) धातु है जो मोबाइल, लैपटॉप, डिजिटल कैमरा और इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए रिचार्बेल बैट्री (लिथियम आयन बैटरी) में उपयोग किया जाता है. इसके साथ ही इसका उपयोग खिलौनों के लिए भी किया जाता है. वर्तमान में भारत लिथियम के लिए पूरी तरह अन्य देशों पर निर्भर है.  

माइंस सेक्रेटरी विवेक भारद्वाज के अनुसार, भारत में पहली बार जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में लिथियम के भंडार को खोजा गया है.” उन्होंने कहा, हर जगह महत्वपूर्ण खनिजों की आवश्यकता होती है. आत्मनिर्भर बनने के लिए देश के लिए महत्वपूर्ण खनिजों का खोजना और उन्हें संसाधित करना बहुत ही महत्वपूर्ण है.  उन्होंने यह भी कहा कि 62वीं केंद्रीय CGPB की बैठक के दौरान Lithium और Gold समेत 51 खनिज ब्लॉकों पर एक रिपोर्ट राज्य सरकारों को सौंपी गई. 

कितनी है Lithium की कीमत?

लिथियम की कीमत ऊपर नीचे होती रहती है. कमोडिटी मार्केट में मेटल की वैल्यू तय होती है. इस समय Lithium की कीमत प्रति टन 4 लाख 72हजार 5 सौ युआन यदि भारतीय मुद्रा में बदले तो लगभग 57,36,119 रुपये होगी.

736903 lithium

इस हिसाब से अगर हम देखें तो एक टन लिथियम की भारतीय रुपये में कीमत 57.36 लाख रुपये होती है. भारत में लगभग 59 लाख टन लिथियम का भंडार मिला है. यानी इसकी कीमत मौजूदा वक्त में 3,384 अरब रुपये होगी. ये कीमत आज की है. ग्लोबल मार्केट के साथ इसकी कीमत हर समय बदलती रहती है.

लिथियम उत्पादन में कौन है आगे? 

Lithium उत्पादन के मामले में ऑस्ट्रेलिया दुनियाभर का 52% लिथियम उत्पादन कर सबसे ऊपर है. 24.5% हिस्सेदारी के साथ चिली दूसरे नंबर पर है. तीसरे नंबर पर चीन है, जो 13.2% लिथियम प्रोड्यूस करता है. ये तीन देश ही दुनियाभर का 90% लिथियम उत्पादित करते हैं. 

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें