होमहरदोईहरदोई में सांप्रदायिक तनाव, पीएसी तैनात, जाने क्या है मामला ?

हरदोई में सांप्रदायिक तनाव, पीएसी तैनात, जाने क्या है मामला ?

Hardoi News: उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में सांप्रदायिक तनाव बढ़ गया है। बीती देर रात क्षेत्र में एक विशेष वर्ग पर आरोप लगया गया कि उनके द्वारा मंदिर में प्रतिस्थापित भगवान की मूर्तियां को खंडित किया गया हैं। दूसरे पक्ष के लोगों ने इस पर कड़ा एतराज जताया और इसका विरोध किया। जिस पर विशेष समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए और क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव की स्थिति बन गई। 

सांप्रदायिक तनाव: दोनों पक्षों में हुई मारपीट 

मिली जानकारी के अनुसार दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। हालांकि सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्ष को शांत करा दिया लेकिन सुबह एक बार फिर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए और विवाद होने लगा। हंगामा बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस ने आला अधिकारियों को सूचना दी।

जानकारी मिलते हैं अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी दुर्गेश कुमार सिंह, क्षेत्राधिकार समेत भारी पुलिस बल के साथ पीएससी को भी क्षेत्र में तैनात कर दिया गया। दोनों पक्ष के बीच बढ़े तनाव को देखते हुए पुलिस को हल्का बल भी प्रयोग करना पड़ा, जिसके बाद स्थिति फिलहाल सामान्य बताई जा रही है। हालांकि पुलिस के आला अधिकारी मौके पर मौजूद हैं और हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

हाल ही में मस्जिद में भड़काऊ भाषण दिया गया था

कुछ दिनों से गोपामऊ क़स्बा सुर्खियों में बना हुआ है। हाल ही में एक मौलाना द्वारा मस्जिद में भड़काऊ भाषण दिया गया था, जिसका मामला अभी शांत हुआ ही था कि विशेष वर्ग के द्वारा मंदिर में मूर्तियों को खंडित करने का मामला सामने आ गया है। रविवार देर रात विशेष वर्ग के द्वारा मंदिर में घुसकर मूर्तियों को खंडित करने का आरोप लगा है। सांप्रदायिक तनाव की स्थिति बन गई। 

मूर्तियों को खंडित किये जाने की जानकारी जैसे ही दूसरे पक्ष के लोगों लगी वह आगबबूला हो गए और सड़क पर उतरकर प्रदर्शन करने लगे। एक पक्ष के प्रदर्शन को देखते हुए दूसरा विशेष वर्ग भी सड़क पर आ गया और आमने-सामने टकराव की स्थिति बन गई।

जानकारी के मुताबिक दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट भी हुई। सूचना मिलते ही टड़ियावां थाना पुलिस के साथ गोपामऊ चौकी पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की गंभीरता को देखते हुए उच्च अधिकारियों को सूचना दी। दो समुदाय के आपस में टकराव की स्थिति को जिला प्रशासन ने भी गंभीरता से लेते हुए चार थानों की फोर्स को कस्बे में तैनात कर दिया। पुलिस के अधिकारी लगातार घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। 

Rojgar alert Banner
spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें