HomeहरदोईHardoi News: विश्व पर्यावरण दिवस पर लगाए गए पौधे

Hardoi News: विश्व पर्यावरण दिवस पर लगाए गए पौधे

Hardoi News: बेनीगंज में बुधवार को विश्व पर्यावरण दिवस पर खुशी एजूकेशनल एण्ड वेल्फेयर सोसायटी संस्था की ओर से अध्यक्ष पुनीत मिश्रा के नेतृत्व में पौधारोपण का कार्य किया गया।

व्हाटऐप चैनल से जुड़ें Join Now
टेलीग्राम चैनल से जुड़ें Join Now
गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें Follow

इस दौरान पुनीत मिश्रा ने बताया कि बेनीगंज से प्रताप नगर सड़क मार्ग पर विधुत पावर हाउस के आस पास बीते वर्ष वन विभाग द्वारा वृक्षारोपण के तहत पौधे लगाए गए थे जो देखरेख के अभाव में सूख गए थे. उनकी जगह पर दो अंजी एक जामुन दो गोल्ड मोहर आदि के पांच नए पौधों को रोपित किया गया है।

साथ ही लोगों से अधिक पौधे लगाने की अपील की। उन्होंने कहा पेड़-पौधों का महत्व हर किसी को समझना होगा। जब तक हम और आप इसे नहीं समझेंगे तक पर्यावरण संरक्षण की दिशा में बढ़ाया हुआ कदम सार्थक नहीं होगा। एक व्यक्ति चौबीस घंटे में औसतन 500 लीटर आक्सीजन का उपयोग करता है। जबकि एक पेड़ इतने ही समय में 55 से 60 लीटर आक्सीजन उत्सर्जित करता है। इस तरह से प्रत्येक व्यक्ति को इस धरा पर जीवित रहने के लिए उसके हिस्से की आक्सीजन आपूर्ति के लिए दस पेड़ चाहिए इसलिए पर्यावरण संरक्षण को समझ कर ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाएं।

पुनीत मिश्रा ने कहा इंसान हो या पशु-पक्षी हर किसी को आक्सीजन की जरूरत होती है। बिना आक्सीजन के व्यक्ति एक क्षण भी नहीं जीवित रह सकता है इसलिए आक्सीजन बनाने के लिए पौधों का होना अत्यंत आवश्यक है। इसकी महत्ता को हर किसी को समझना होगा। जब तक हर व्यक्ति के अंदर पेड़-पौधों का आदर नहीं होगा तब तक पर्यावरण प्रदूषित होता जाएगा और इंसान के लिए खतरे की घंटी तेज होती जाएगी। जिंदगी के हर मोड़ पर पौधों की जरूरत पड़ती है। चाहे वह हवा की हो, पानी की हो, छाया की हो या फिर उसके फल व लकड़ी की बात हो। देखा जाए तो अगर आप एक आम का पौधा लगाते हैं तो उसका फल आपके साथ आपके परिवार के लोग खाते हैं लेकिन उससे छाया कई इंसान और पशु लेते हैं। कई पक्षियों का आशियाना भी उसी पेड़ पर होता है। आज जो प्रदूषण बढ़ रहा है अगर पर्याप्त संख्या में पौधे लगें तो इसके दुष्प्रभाव को कम किया जा सकता है।

इस मौके पर संस्था सहयोगी मोहम्मद जावेद उर्फ हनी, अर्पित गुप्ता, मोहम्मद वाहिद, पंकज अवस्थी, नंद कुमार, विकाश तिवारी उपस्थित रहे।

Latest Hardoi News के लिए क्लिक करें..

यह भी पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें