Homeहरदोईहत्यारा बाप: बेटी का दराती से गला काटकर की हत्या, फिर कुत्ते...

हत्यारा बाप: बेटी का दराती से गला काटकर की हत्या, फिर कुत्ते का खून छिड़क कर भाई भाभी को फ़साने की रची साजिश

हरदोई: पचदेवरा थाना क्षेत्र में हुई 15 वर्षीय किशोरी की हत्या का खुलासा पुलिस ने आखिर गुरुवार को कर दिया। पत्नी और छोटे भाई को फ़साने और महज शक के आधार पर पिता ने ही बेटी की हत्या की थी। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। खुलासा करने वाली टीम को पुलिस अधीक्षक ने 20 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

व्हाटऐप चैनल से जुड़ें Join Now
टेलीग्राम चैनल से जुड़ें Join Now
गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें Follow

पचदेवरा थाना क्षेत्र के बिसौली के जंगलों में एक जुलाई की सुबह 15 साल की किशोरी का शव पड़ा मिला था। उसकी गला रेतकर हत्या की गई थी। किशोरी की शिनाख्त हथौड़ा गांव रहने वाले अनंगपाल सिंह की पुत्री मोहिनी के रूप में हुई थी।

मोहिनी के पिता अनंगपाल ने छोटे भाई, उसकी पत्नी, छोटे भाई की पत्नी का कथित प्रेमी और उसके भाई के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया था। अनंगपाल का आरोप था कि छोटे भाई की पत्नी के संबंध गांव के ही युवक से थे। मोहिनी इसका विरोध करती थी इसलिए चारों ने मिलकर मोहिनी की हत्या कर दी और शव फेंक दिया।

पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की और अनंगपाल को कई बार पूछताछ के लिए बुलाया गया तो उसने हर बार बयान बदल दिए। अलग-अलग बिंदुओं पर जांच करने के दौरान पुलिस को अहम सबूत मिले और यह स्पष्ट हो गया कि मोहिनी की हत्या पिता अनंगपाल ने ही की है। इसके बाद पुलिस ने गुरुवार की सुबह हथौड़ा चौराहा के पास से अनंगपाल सिंह उर्फ अन्नू को हिरासत में ले लिया।

पुलिस अधीक्षक राजेश द्विवेदी ने बताया कि पूछताछ के दौरान अनंगपाल ने पुलिस को घटना की जो वजह बताई वह चौकाने वाली है। अनंगपाल का कहना है कि उसकी पत्नी कई वर्ष पहले उसे छोड़कर प्रेमी के साथ चली गई थी। छोटे भाई की पत्नी के भी प्रेम संबंध गांव में हो गए थे। उसे शंका थी कि उसकी बेटी भी किसी से फोन पर बात करती है और वह कहीं किसी के साथ चली न जाए इसलिए उसकी हत्या कर दी।

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया है कि वह 30 जून की रात अपनी बेटी को रिश्तेदारी में ले जाने के बहाने बिसौली के निकट ले गया. वहां उसने अपनी बेटी की दराती से हमला कर हत्या कर दी. मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी ने बताया है कि उसने अपने भाई और भाभी को फंसाने के लिए गांव के कुत्ते के बच्चे को घायल किया और उसका खून घर के अंदर बिखेर दिया. इसके बाद बेटी की हत्या का आरोप भाई-भाभी पर लगा दिया. 

फिलहाल पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर हत्या में इस्तेमाल होने वाला हथियार बरमाद कर लिया है. पुलिस ने आरोपी पिता को जेल भेज दिया है. तो वहीं मृतका के चाचा-चाची और अन्य युवक को इस केस से बरी कर दिया गया है.

एसपी ने बताया कि खुलासा करने में सीओ शाहाबाद हेमंत उपाध्याय, पचदेवरा पुलिस, स्वाट, एसओजी और सर्विलांस टीम ने अहम योगदान किया है। इन सभी को 20 हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें