होमहरदोईमां-बेटी के जिंदा जलने का मामला: हरदोई के एसपी राजेश द्विवेदी की...

मां-बेटी के जिंदा जलने का मामला: हरदोई के एसपी राजेश द्विवेदी की अगुवाई में गठित हुई SIT, वहीं विवेचना DSP विकास जायसवाल करेंगे

Hardoi: कानपुर देहात के चालहा गांव में कब्जा हटाने के दौरान मां-बेटी की जलने से हुई मौत के मामले की जांच के लिए एक और SIT का गठन किया गया है।

शासन की तरफ से गठित SIT का नेतृत्व हरदोई के वर्तमान एसपी राजेश द्विवेदी करेंगे। साथ ही घटना की विवेचना हरदोई में ही तैनात डिप्टी एसपी विकास जायसवाल को सौंपी गई है। विवेचक डिप्टी एसपी विकास जायसवाल शुक्रवार को टीम के साथ कानपुर देहात जाने की संभावना है।

इसके पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बनी SIT में मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर और एडीजी आलोक सिंह शामिल है।

बता दें कि मड़ौली ग्राम पंचायत के चालहा गांव में सोमवार को SDM दलबल के साथ कब्जा हटाने पहुंचे थे।
इस दौरान कृष्ण गोपाल की पत्नी प्रमिला और बेटी नेहा झोपड़ी के भीतर गई। वहां संदिग्ध हालात में आग लगने से मां-बेटी जिंदा जल गई। डिप्टी सीएम बृजेश पाठक के बात करने के बाद परिवार वाले मानें थे।

डीजीपी ने गठित की SIT

गुरुवार को विवेचना के लिए डीजीपी ने SIT गठित की है। पुलिस अधीक्षक हरदोई की अगुवाई में पांच सदस्यीय एसआईटी गठित की है। इसमें डिप्टी एसपी विकास जायसवाल को विवेचक बनाया गया है। साथ ही हरदोई के शहर कोतवाल संजय पांडेय, क्राइम ब्रांच से रमेश चंद्र, महिला थाना प्रभारी रामसुखारी सदस्य बनाए गए हैं।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें