होमहरदोईहरदोई का एक ऐसा सिपाही, जो बना परिंदों का मसीहा, 1000 से...

हरदोई का एक ऐसा सिपाही, जो बना परिंदों का मसीहा, 1000 से अधिक पक्षियों का करा चुके हैं आज़ाद

हरदोई: यूपी के हरदोई में यूपी पुलिस का एक ऐसा भी सिपाही है जिसकी लोग दिल से तारीफ़ भी कर रहे है और सम्मान भी। इस नौजवान सिपाही के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। इतना ही नहीं उसके इस नेक कार्य से प्रसन्न होकर हरदोई पुलिस अधीक्षक ने भी उसे सम्मानित किया है।

दरअसल, यह नौजवान सिपाही पिंजरों में कैद पक्षियों को पहले खरीदता है फिर उन्हें खुले आसमान में आज़ाद उड़ने के लिए छोड़ देता है इतना ही भूखे-प्यासे जानवरों के लिए चारे का भी बंदोबस्त करता है। इसी कार्य के लिए उसे लोग खूब पसंद और प्यार भी कर रहे हैं।

शहर कोतवाली क्षेत्र में 2019 बैच के इस होनहार सिपाही का नाम है सुरेश सबलोक और यह डायल-112 की पीआरवी 2711 पर तैनात हैं।

सिपाही सुरेश सबलोक उन पक्षियों को खरीदते हैं, जो बाजार में उन्हें बिकते नजर आते हैं, जिनमें अधिकतर तोता और छोटी चिड़िया होती हैं। सुरेश सबलोक इसके लिए किसी की मदद नहीं लेते है बल्कि इसके लिए अपने वेतन की धनराशि खर्च करते हैं.

सुरेश सबलोक पिंजरे में बंद पक्षियों को खरीदकर उन्हें खुले आसमान में उड़ने के लिए आजाद कर देते हैं। सुरेश बताते हैं कि बचपन से ही उन्हें पशु-पक्षियों से गहरा लगाव रहा है। जब भी कभी भूखे पशु या पक्षी दीखते थे तो जो कुछ सम्भव होता था, उसको खिलाते थे। वहीं, जब नौकरी लगी तो इस नेक कार्य को और आगे बढ़ाया और अब वे पिंजरों में कैद पक्षियों को खरीदकर उन्हें खुले आसमान में उड़ने के लिए आजाद कर देते हैं। इसके साथ ही वह गौशालाओं में चारा भी पहुंचाते हैं।

हजारों पक्षियों को कर चुके हैं आजाद

सुरेश ने बताया कि वह अब तक लगभग एक हजार पक्षियों को बेचने वालों से खरीदकर आजाद कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि अब लोग खुद उन्हें पक्षियों के बिक्री होने की जानकारी देने लगे हैं। जिसके बाद वे मौके पर पहुंचकर पक्षियों को खरीद लेते हैं और उन्हें आजाद कर देते हैं।

vlcsnap 2023 08 01 12h40m13s180

सोशल मीडिया पर वायरल सिपाही को एसपी ने किया सम्मानित

सिपाही सुरेश सबलोक के इन नेक कार्यों के लोगों ने वीडियो बनाकर पोस्ट कर रहे हैं, जहां लोग उनकी इस कार्य की जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। तो वहीं इस जानकारी के बाद एसपी राजेश द्विवेदी ने आरक्षी सुरेश सबलोक को 10 हजार रुपये की सहयोग राशि प्रदान की और उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

सिपाही सुरेश सबलोक का मानना है कि जिन परिंदो- पक्षियों को ईश्वर ने खुले आसमान में उड़ने के लिए बनाया है तो फिर उन्हें पिंजरे में कैद कर के क्यों रखा जाए। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे पक्षियों को पिंजरों में कैद न रखें वह आसमान में उड़ने के लिए बने है उन्हें खुले आसमान में आजाद उड़ने दें।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें