Homeहरदोईसवायजपुर में बनेगा हरदोई जिले का पहला इंडस्ट्रियल कॉरिडोर, 2024 तक बन...

सवायजपुर में बनेगा हरदोई जिले का पहला इंडस्ट्रियल कॉरिडोर, 2024 तक बन जायेगा गंगा एक्प्रेस वे

सवायजपुर/हरदोई: हरदोई जिले में होते हुए निकला गंगा एक्सप्रेस वे पर तेजी से काम चल रहा है। एक्सप्रेस वे के किनारे ही इंडस्ट्रियल कॉरिडोर बनाया जाएगा, यह जिले का पहला इंडस्ट्रियल कॉरिडोर होगा। जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया कि गंगा एक्प्रेस वे का कार्य दिसम्बर 24 तक पूर्ण करने के निर्देश हैं।

व्हाटऐप चैनल से जुड़ें Join Now
टेलीग्राम चैनल से जुड़ें Join Now
गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें Follow

जिलाधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही इंडस्ट्रियल कॉरिडोर का काम शुरू हो गया है, प्रशासन ने सवायजपुर क्षेत्र की 165 हेक्टयेर जमीन को चिन्हित कर किया गया है। जल्द ही बैनामे के माध्यम से यह जमीन हस्तांतरित किया जायेगा। उन्होंने बताया बिलग्राम क्षेत्र की जमीन बाद में ली जाएगी।

हरदोई के सवायजपुर तहसील क्षेत्र में गंगा एक्सप्रेसवे के किनारे इंडस्ट्रियल कॉरिडोर बनेगा, जिससे लोगों को स्थानीय स्तर पर रोजगार मिलेगा। आपको बता दें सवायजपुर तहसील क्षेत्र से होकर गुजरने वाले गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण तेजी से हो रहा है। सरकार की सभी एक्सप्रेसवे के किनारे इंडस्ट्रियल कॉरिडोर बनाने की योजना है.

इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के लिए 165 हेक्टयेर जमीन चिन्हित

उसी योजना के अंतर्गत यूपीडा के कार्यपालक अधिकारी ने एक्सप्रेसवे के किनारे स्थित उपयोगी भूमि का चयन कर राजस्व ग्राम व तहसील संबंधी सूचना उपलब्ध कराने के लिए जिलाधिकारी को पत्र भेजा था। जिलाधिकारी एम पी सिंह ने बताया कि इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के लिए सवायजपुर तहसील क्षेत्र के कौशिया में 34.9476 हेक्टयेर, सरसई में 10.4570, देवनियापुर में 26.2590 और सेमर झाला गांव में 56.3470 हेक्टेयर भूमि चिन्हित कर ली गई है।

जिलाधिकारी ने बताया कि इसके अभिलेखों के साथ ही औद्योगिक कल्याण के लिए प्रस्ताव भी यूपीआईडी को भेज दिया गया है। सवायजपुर तहसील क्षेत्र में औद्योगिक गलियारा स्थापित होने से रोजगार के अवसर मिलेंगे। लोगों को स्थानीय स्तर पर ही काम मिलेगा जिससे उनकी तरक्की होगी।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें