Home हरदोई संभावित बाढ़ क्षेत्रों का निरीक्षण कर सभी तैयारियां पूरी करें: जिलाधिकारी

संभावित बाढ़ क्षेत्रों का निरीक्षण कर सभी तैयारियां पूरी करें: जिलाधिकारी

  • नाविक एवं गोताखोरों के नाम, पता एवं मोबाइल नम्बर लेखपाल अपने पास अवश्य रखें- अविनाश कुमार
  • बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के जानवरों के लिए चारा/भूसा आदि की व्यवस्था पहले से सुनिश्चित कर लें- डीएम

हरदोई : सम्भावित बाढ़ के दृष्टिगत आहूत बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने अधिशासी अभियंता शारदा नहर को निर्देश दिये कि संभावित बाढ़ क्षेत्रों का निरीक्षण कर सभी तैयारियां पूर्ण कर लें और नदी से कटान होने वाले ग्रामों को चिन्हित करें तथा बाढ़ निरोधक कार्यो के क्षतिग्रस्त स्थलों की मरम्मत आदि के लिए मजदूर एवं अन्य आवश्यक व्यवस्था कराना सुनिश्चित करायें और ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ निरोधक कार्यो के क्षतिग्रस्त स्थालों पर जहां रात्रि में भी कार्य करने की आवश्यकता हो, वहां बिजली/जनरेटर की उचित व्यवस्था करायें।

यह भी पढ़ें : लखनऊ : नाबालिग लड़कियों की तस्करी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश , 5 गिरफ्तार

उन्होने अधिशासी अभियंता शादरा नहर को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिए नाव चलाने वाले नाविक एवं गोताखोरों से सम्पर्क कर उनका नाम, पता एवं मोबाइल नम्बर जरूर अपने पास रखें और बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के बीडीओ, ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों एवं थानाध्यक्षों के साथ समन्वय बना कर रखे और नादियों में पानी छोड़े की जानकारी मिलने पर संबंधित ग्रामवासियों को तत्काल सूचित करें तथा बाढ़ चौकियों को सर्तक रखें एवं बाढ़ चौकियों पर संबंधित क्षेत्र के कानूनगों व लेखपालों को जिम्मेदारी सौपी जाये और संबंधित थाना एवं उप जिलाधिकारी को सूचित करें।

बैठक में जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी बिलग्राम, सवायजपुर, शाहाबाद को निर्देश दिये कि अपने क्षेत्र में अधिनस्थ अधिकारियों के माध्यम से बाढ़ नियंत्रण के संबंध में चौकसी बरते और बाढ़ प्रभावित ग्रामीणों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचवाना सुनिश्चित करेगें। उन्होने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के जानवरों के लिए चारा/ भूसा आदि के टेण्डर आदि कराकर भूसा आदि की व्यवस्था पहले से कराना सुनिश्चित करें तथा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के जानवरों का प्राथमिता पर शतप्रतिशत टीकाकरण करायें जाने की व्यवस्था करें।

यह भी पढ़ें :पीलीभीत टाइगर रिजर्व में बसती है सांपों का अद्भुत दुनिया

जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बाढ़ चौकियों को चिन्हित करा लें तथा बाढ़ से प्रभावित होने वाली तहसीलों में बाढ़ कण्ट्रोम रूम बनवायें और उनके फोन नम्बर आम जनमानस के लिए सार्वजनिक करायें तथा बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए खाद्यान्न आदि की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करायें। बैठक में जिलाधिकारी ने सीएमओ से कहा कि बाढ़ प्रभावित गांवों के लिए स्वास्थ्य टीमों का क्षेत्रवार गठन करा लें। 

देश की हर नौकरी की खबर आप तक सबसे पहले आपकी अपनी एप्प “रोजगार अलर्ट “पर

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.hdibharat.rojgaralert

बैठक में जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के हैण्ड पम्पों को ऊंचा कराकर चबूतरा बनवायें ताकि बाढ़ आने पर हैण्ड पम्प का पानी दूषित न हो तथा ग्रामवासियों को पेयजल की समस्या न हो। उन्होने जिला पूर्ति विभाग को निर्देश दिये कि बाढ़ प्रभावित ग्रामवासियों के लिए मिट्टी का तेल, नमक, माचिस आदि की पर्याप्त उपलब्धता बनायें रखें तथा प्रभावित ग्रामीणों के खाने आदि की भी व्यवस्था पहले से सुनिश्चित कर लें। बैठक में अधिशासी अभियंता शारदा नहर अखिलेश कुमार गौतम ने जिलाधिकारी को आश्वासन दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के समस्त कार्यो के बाढ़ आने से पहले पूर्ण कर लिया जायेगा। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 सूर्यमणि त्रिपाठी, अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, उप पशु चिकित्सा अधिकारी, अपर जिला सूचना अधिकारी दिव्या निगम सहित अन्य सभी संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

- Advertisment -

Most Popular

डीएम अविनाश कुमार, सीडीओ आकांक्षा राना समेत 126 महादानियों ने किया रक्तदान

हरदोई। अमर उजाला फाउंडेशन के तत्वावधान में बुधवार को आयोजित रक्तदान शिविर में 126 महादानियों ने रक्तदान कर समाज को जनहित में...

क्या है ‘ग्लू ग्रांट’ (Glue Grant) योजना व ‘मेटा विश्‍वविद्यालय’ (Meta University)अवधारण?

चालीस केंद्रीय विश्वविद्यालय अकादमिक क्रेडिट बैंक व यूजी पाठ्यक्रमों में बहु-विषयक (multidisciplinary) को प्रोत्साहित करने के लिए ग्लू ग्रांट (Glue Grant) जैसे...

रोजा-इफ्तार कराने वाले लगा रहे संगम में डुबकी:उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य

हरदोई : रसखान प्रेक्षागृह में पांच अरब 96 करोड़ 95 लाख रुपये की 159 कार्यों की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने...

65 बाघों का घर, पीलीभीत टाइगर रिजर्व, Pilibhit Tiger Reserve

पीलीभीत बाध अभयारण्य उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में स्थित है और 2014 में इसे टाइगर रिजर्व के रूप में अधिसूचित किया...

Recent Comments

Translate »