होमकन्नौजकन्नौज में हिस्ट्रीशीटर सीसीटीवी से देखकर पुलिस पर बरसता रहा गोलियां, 4...

कन्नौज में हिस्ट्रीशीटर सीसीटीवी से देखकर पुलिस पर बरसता रहा गोलियां, 4 घंटे चली मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

कन्नौज: जिले के विशुनगढ़ थाना क्षेत्र के धरनीधरपुर नगरिया गांव के हिस्ट्रीशीटर अशोक ने गांव के बाहर खेत मे आलीशान मकान बना रखा था। घर के बाहर चारों ओर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे। कयास लगाए जा रहे हैं कि वह घर के अंदर से ही सभी गतिविधियां देख रहा था।

दअरसल सोमवार की शाम को वारंट लेकर पहुंची पुलिस टीम पर पूर्व प्रधानपति और हिस्ट्रीशीटर ने ताबड़तोड़ 30 राउंड फायरिंग कर दी। गोली लगने से घायल एक पुलिसकर्मी को डॉक्टरों ने कानपुर रेफर कर दिया। करीब चार घंटे चली मुठभेड़ में पुलिस ने भी दस राउंड गोलियां दागीं। आरोपित और उसके बेटे को गोली लगने के बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया ।

पुलिस के मुताबिक जिस तरफ भी टीम का मूवमेंट होता हिस्ट्रीशीटर उसी तरफ गोली चला रहा था। बताते हैं कि मुन्ना यादव का क्षेत्र में इतना दबदबा है कि उसके खिलाफ कोई मुंह खोलने की हिम्मत नहीं करता। इस चुनाव से पहले उसने अपनी दबंगई के बल पर पत्नी को ग्राम प्रधान बनवाया। राजनीति में भी उसका काफी दखल है। इसी के चलते कई मुकदमो के बाद भी वह बाहर घूमता रहा और पुलिस ने जब दबाव बनाने की कोशिश कि तो उसने पुलिस पर ही हमला कर दिया।

घर में उसके साथ परिवार भी रहता है

बताया जाता है कि मुन्ना के दो बेटे और पत्नी गांव के बाहर खेत में बने इसी मकान में रहते हैं। ग्रामीणों के मुताबिक, मकान काफी बड़ा और आलीशान है। उसके यहां आने वाले व्यक्ति को घर मे एंट्री तभी मिलती है, जब वह सीसीटीवी कैमरे से देख लेता है। आने वाले के बारे में पूरी तरह संतुष्ट होने के बाद ही उसके घर का मेन गेट खुलता है। कहते हैं कि सोमवार को जब पुलिस पहुंची तो उसने सीसीटीवी में देखकर अलर्ट हो गया। इसके बाद उसने घर के अंदर से टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी।

300 मीटर दूर से पुलिस ने मकान को घेरा

कन्नौज पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर अशोक का मकान 300 मीटर की दूरी से चारो तरफ से घेर रखा था। जिससे वह किसी भी तरफ अपने घर से भागने की कोशिश करे तो उसे पकड़ा जा सके। जैसे-जैसे रात बढ़ रही है पुलिस दबाव के साथ घेराबंदी कसती चली गई। पुलिस अधीक्षक अमित कुमार आनंद के नेतृत्व में सभी उच्चाधिकारी कई थानों की फोर्स के साथ देर रात तक डटे रहे। घेराबंदी कसते ही बाप-बेटों ने फायरिंग करते हुए भागने की कोशिश की और पकड़े गए।

भाई की हत्या का बदला लेने में बना हिस्ट्रीशीटर

कन्‍नौज के धरनीधरपुर नगरिया निवासी हिस्ट्रीशीटर अशोक कुमार उर्फ मुन्ना यादव अपने भाई की हत्या का बदला लेने के लिए हिस्ट्रीशीटर बना। उसके भाई अनिल उर्फ गुड्डू की 25 साल पहले 1998 में हत्या कर दी गई थी। उसके बदले में मुन्ना यादव ने अगस्त 2002 में गांव के एक व्यक्ति की हत्या की थी।

फिर पांच साल बाद 2007 मे भी एक हत्या का मामला सामने आया। 1999 में उस पर पुलिस की रायफल लूटने का भी आरोप लगा था। विशुनगढ़ थाने में उसकी हिस्ट्रीशीट नंबर-40 ए है। उसके खिलाफ विभिन्न थानों में 20 से अधिक मुकदमे पंजीकृत हैं।

20 हजार रुपये से भी कम कीमत पर ले जायें धांसू HP 255 G9 लैपटॉप, मिलेगी 4GB रैम के साथ 256GB SSD

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें