होमलखीमपुर खीरीदरिंदों ने 13 वर्षीय छात्रा की बेहरमी से की हत्या, मदरसे...

दरिंदों ने 13 वर्षीय छात्रा की बेहरमी से की हत्या, मदरसे गई थी पढ़ने

spot_img

लखीमपुर खीरी: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया में रविवार को मदरसे गई नाबालिग छात्रा की बड़ी ही बेरहमी से हत्या कर दी गई। छात्रा शव सोमवार को एक गन्ने के खेत में पड़ा मिला। छात्रा के साथ दुष्कर्म करने के बाद हत्या की आशंका भी जताई जा रही है। इस घटना से ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। ग्रामीणों ने मौका पर मुआयना करने पहुंचे एसपी की गाड़ी घेर लिया और जमकर हंगामा किया।

लखीमपुर खीरी जिले के सिंगाही थाना क्षेत्र के एक गांव की 13 वर्षीय छात्रा रविवार को मदरसे में पढ़ने गई थी। जब छात्रा शाम तक घर वापस नहीं आयी तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की, लेकिन कुछ पता नहीं चला। उसके बाद देर रात गुमशुदगी दर्ज करायी गयी। सोमवार को पूर्वाह्न करीब 11 बजे छात्रा का शव एक गांव के पास के गन्ने के खेत में मिला।

खबर मिलते ही परिजनों समेत अन्य लोग भी मौके पहुँच गए। छात्रा की मां ने दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई। बताया जा रहा है कि छात्रा के सिर पर चोट के निशान भी मिले हैं। बच्ची की आंखें फूटी हुईं मिली। इसके साथ ही मुंह में मिट्टी भरी हुई मिली है। बच्ची के कपड़े भी अस्त-व्यस्त मिले है।

बेरहम दरिंदों ने किशोरी की फोड़ दी आंख

छात्रा के परिजन दुष्कर्म के बाद हत्या की बात कर रहे हैं, लेकिन पुलिस इसे खारिज कर रही है। पुलिस को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार है, जबकि गाँव और परिजनो के अनुसार किशोरी का शव उसके साथ दरिंदगी होने की गवाही दे रहा है। किशोरी के शव की हालत देखकर ग्रामीण आक्रोश में हैं। जब एसपी गणेश प्रसाद साहा मुआयने के लिए मौके पर पहुंचे तो लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। परिजनों और ग्रामीण ने हंगामा कर गाड़ी को घेर लेने पर एसपी को घटनास्थल से करीब 100 मीटर पहले ही गाड़ी से उतरना पड़ा।

परिजनों के आरोपों पर एसपी का इन्कार

मौके पर पहुंचे एसपी गणेश प्रसाद साहा ने बताया कि शुरुआती जांच में शरीर पर चोटों के निशान मिले हैं। उन्होंने परिजनों के बच्ची की आंख फोड़ने के आरोप पर कहा कि चोट तो लगी है, लेकिन हत्या का सही कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही पता चल पाएगा। परिजनोंं के पुलिस पर मदद न करने के आरोप से एसपी ने इन्कार किया। कहा, परिजनों से उनकी बात हुई है, उन्होंने पुलिस पर ऐसा कोई आरोप नहीं लगाया।

हत्या की घटना के खुलासे के लिए लगाईं तीन टीमें

एसपी गणेश प्रसाद साहा ने बताया कि घटना के खुलासे के लिए क्राइम ब्रांच, एसओजी, सर्विलांस और आसपास के थानों की पुलिस की तीन टीमें बनाई गई हैं। कुछ लोगों से पूछताछ भी की जा रही है। बहुत जल्द ही खुलासा किया जायेगा और दोषियों को कड़ी सजा मिलेगी.

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें