Homeलखीमपुर खीरीशराब पीने से मना किया तो मजदूर के मार दी गोली, हुई...

शराब पीने से मना किया तो मजदूर के मार दी गोली, हुई मौत

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर शहर में एक मजदूर को शराब पी रहे लोगों को मना करना मंहगा पड़ गया,उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी। मृतक हरियाणा का रहने वाला था।

बताया जाता है कि शहर में सेठ घाट रोड पर मंगलवार की देर रात तीन आरोपियों ने शराब पीने से मना करने पर हरियाणा के एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। एक नामजद समेत तीन आरोपियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार हरियाणा के थाना सदर कैथल के गांव सीरटा निवासी बलराम पुत्र रंजीत सिंह (45) लगभग पांच माह पहले जिले में जल जीवन मिशन के तहत ग्राम सभाओं में बन रहे ओवरहेड टैंक की बोरिंग के लिए खीरी आए थे। पांच दिन से सैधरी ग्राम सभा में बोरिंग का काम चल रहा था। बलराम और उनके चार साथी सेठ घाट रोड स्थित मोहल्ला प्रकाशनगर में बोरवेल के पास ही रुके थे।

मंगलवार की रात करीब नौ बजे मोहल्ला प्रकाशनगर निवासी कुलदीप बाजपेयी अपने दो साथियों के साथ बोरवेल के पास पहुंचा और चहारदीवारी पर बोतल रखकर शराब पीने लगा। मृतक के साथियों के मुताबिक तीनों आरोपी शोर-शराबा भी कर रहे थे। बलराम ने आरोपियों को शराब पीने से मना किया तो कुलदीप ने उसे गोली मार दी।

बलराम की मौके पर ही मौत हो गई। डरे-सहमे साथियों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है जबकि मृतक बलराम के रिश्ते के पोते रोहित राज राणा की तहरीर पर कुलदीप बाजपेयी और दो अज्ञात आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

दो ने पकड़े हाथ और तीसरे आरोपी ने मार दी गोली

मृतक के साथी राजेश कुमार, बृजेंद्र व सुब्बा ने बताया कि खाना खाकर कुछ लोग सोने के लिए बिस्तर पर चले गए थे। बलराम और अन्य लोग आग ताप रहे थे। इसी समय आरोपी बोरवेल के पास पहुंचे। बलराम ने शराब पीने से मना किया तो दो आरोपियों ने उसके हाथ पकड़ लिए। तीसरे आरोपी कुलदीप ने गोली मार दी। आरोपी थोड़ी ऊंचाई पर खड़े थे। गोली, बलराम की गर्दन के पास लगी और मौके पर ही मौत हो गई।

कुछ दिन पहले ही जेल से छूटा है आरोपी

बताते हैं कि कुलदीप कुछ दिन पहले ही जेल से छूटा है। मृतक के साथियों ने बताया कि गोली मारकर हत्या करने के बाद आरोपियों में किसी तरह का कोई खौफ नहीं दिखा।

कोतवाल चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मुख्य आरोपी कुलदीप पहले भी कई मामलों में जेल जा चुका है। सात दिन पहले ही जमानत पर जेल से बाहर आया है। गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं,जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें