Home उत्तर प्रदेश मायावती का एलान, किसी भी पार्टी से चुनावी समझौता नहीं, अकेले लड़ेंगे...

मायावती का एलान, किसी भी पार्टी से चुनावी समझौता नहीं, अकेले लड़ेंगे चुनाव

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि सांप्रदायिक मुद्दे उठाकर सपा और भाजपा हिंदू मुस्लिम आधारित चुनाव कराना चाहती है। यह दोनों की मिलीभगत है और जनता इनके षड्यंत्र में फंसने वाली नहीं है। उन्होंने यह भी एलान किया कि बसपा किसी से गठबंधन नहीं करेगी और अकेले अपने दम पर ही चुनाव लड़ेगी। मायावती विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर मंगलवार को प्रदेश कार्यालय पर पत्रकारों को संबोधित कर रहीं थीं।

यह भी पढ़ें : मायके जा रही महिला की संदिग्ध हालात में मौत

मायावती ने भाजपा, सपा और कांग्रेस पर निशाना साधा। कहा कि भाजपा और सपा एक दूसरे के पोषक और पूरक हैं। दोनों ही हिंदू- मुस्लिम बेस्ड चुनाव कराने पर आमादा हैं और इसके जरिए एक दूसरे को लाभ पहुंचाना चाहते हैं। दोनों के इरादे साफ हैं। कभी जिन्ना, कभी अयोध्या में पुलिस फायरिंग जैसे सांप्रदायिक और धार्मिक मुद्दों को उठाने का प्रयास इसी का परिणाम है। जनता भी यह समझ रही है। खास तौर भाजपा अपनी विफलताओं पर पर्दा डालने के लिए ऐसा कर रही है।

यह भी पढ़ें :16 लोगों में जीका वायरस की पुष्टि, दो गर्भवती भी संक्रमित

उन्होंने कहा कि अब अधकचरे कामों का शिलान्यास किया जा रहा है और चुनाव तक ही यह सिलसिला जारी रहेगा। चाहे मुफ्त का राशन हो या पेट्रोल के दाम कम करना, चुनाव के बाद केंद्र सरकार दोनों से हाथ खींच लेगी। किसान भी केंद्र सरकार की वादाखिलाफी तथा अहंकार से त्रस्त हैं। 50 प्रतिशत युवाओं को टिकट देने की बात से भी उन्होंने इंकार नहीं किया। कहा कि यह तो अच्छा होगा कि किसी पार्टी में इतने युवा आगे आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस तमाम घोषणाएं कर रही है पर यदि उसने अपने पचास प्रतिशत वायदे भी पूरे किए होते तो उसका केंद्र और राज्य से इस तरह सफाया न होता।

योगी का कोई परिवार नहीं, मेरा परिवार सर्वसमाज : मायावती
मायावती ने कहा कि सीएम योगी और मेरा कोई परिवार नहीं है। हालांकि उनका मूल परिवार आरएसएस है लेकिन मेरा मूल परिवार सर्वसमाज है। योगी ने खुद को सन्यासी दिखाने के लिए भगवा वस्त्र पहन लिया है पर  मैने ऐसा नहीं किया क्योंकि बसपा सभी धर्मों जातियों के लोगों का ध्यान रखती है। वह केवल एक धर्म में भी एक जाति विशेष के लोगों का ही ध्यान रख रहे हैं।

आयोग को यूपी में करनी होंगी एक हजार सीटें
 सपा के 400 और भाजपा के 300 से ज्यादा सीटों पर विजय के दावे पर मायावती ने व्यंग किया और कहा कि इस बचकाने दावे पर तो चुनाव आयोग को यूपी में सीटों की संख्या 1000 करनी होगी।

रोजगार से जुडी खबरों के लिए डाउनलोड करें ROJGAR ALERT App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बीजेपी बहुत चलबाज झूठी पार्टी है: डॉ राजपाल कश्यप

हरदोई: समाजवादी पार्टी कार्यालय पर सदर विधानसभा की बूथ कमेटी की समीक्षा बैठक सपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा जीतू पटेल की अध्यक्षता में...

पति ने अवैध संबंधों के शक पर पत्नी की हत्या की ,पुलिस ने किया गिरफ्तार

हरदोई: थाना बेहटा गोकुल क्षेत्र के शिरोमणि नगर के पास सुखेता नाले में 30 नवंबर को एक लावारिस महिला का शव मिला...

दिव्यांगजनों को अधिक से अधिक संख्या में मतदान करने के लिए प्रोत्साहित करें -अपर जिलाधिकारी

हरदोई: आज दिव्यांग दिवस के अवसर पर राजकीय इन्टर कालेज हरदोई के प्रांगण में दिव्यांगजनों की खेलकूद प्रतियोगिताओं...

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का आयोजन 11 दिसम्बर को:-जिला समाज कल्याण अधिकारी

हरदोई: जिला समाज कल्याण अधिकारी राजमती ने बताया है कि शासन के निर्देश पर जनपद मे समाज कल्याण विभाग द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक...

Recent Comments

Translate »