Home देश देश में ब्लैक फंगस (black fungus) के करीब 9 हजार मामले

देश में ब्लैक फंगस (black fungus) के करीब 9 हजार मामले

देश में ब्लैक फंगस (black fungus) के करीब 8,848 मामले हैं। ब्लैक फंगस (black fungus) यानी म्यूकरमाइकोसिस के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार इसके इलाज में अहम एंफोटेरिसिन-बी की उपलब्धता भी बढ़ाने में जुट गई है। केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने शनिवार को कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस दवा की 23,680 अतिरिक्त शीशियां (वायल) उपलब्ध कराई गई हैं।

पूरी खबर पढ़ें – यूपी, एमपी सहित पांच राज्यों में 31 मई तक लॉकडाउन

रसायन और उर्वरक मंत्री गौड़ा ने ट्वीट कर बताया कि देश में ब्लैक फंगस (black fungus) के करीब 8,848 मामले हैं और इसी के आधार पर राज्यों को एंफोटेरिसिन-बी की शीशियां उपलब्ध कराई गई हैं। उन्होंने कहा कि कुल आवंटन में से 75 फीसद दवा आंध्र प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और तेलंगाना जैसे राज्यों के हिस्से में आई है।

जाने ब्लैक फंगस (black fungus) से किन अंगों को पहुंचता है नुकसान 

ब्लैक फंगस (black fungus) से नाक, आंख, साइनस और कभी-कभी दिमाग को भी नुकसान पहुंचता है। इंसानों में ब्लैक फंगस के संक्रमण के मामले बहुत कम मिलते हैं। मिट्टी, पौधों, खराब फल और सब्जियों में ब्लैक फंगस होते हैं और इसके संपर्क में आने के बाद कभी-कभी इंसान भी इससे संक्रमित हो जाता है।

स्टेरायड का इस्तेमाल हो रहा घातक 

डाक्टरों का कहना है कि कोरोना संक्रमण के इलाज के दौरान स्टेरायड का इस्तेमाल किया जा रहा है। स्टेरायड से रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित करती है और ब्लैक फंगस ब्लैक फंगस (black fungus) से कमजोर प्रतिरक्षा वाले लोगों को ही पकड़ता है। यही वजह है कि कोरोना से ठीक होने वाले ज्यादातर मरीज, खासकर डायबिटिक के मरीज ब्लैक फंगस की चपेट में आ रहे हैं।

देश की हर नौकरी की खबर आप तक सबसे पहले आपकी अपनी एप्प “रोजगार अलर्ट “पर

डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें

यह भी पढ़ें – अपर मुख्य सचिव के निरीक्षण में जिला अस्पताल की खुली पोल, नहीं चला सका कोई भी वेंटिलेटर

- Advertisment -

Most Popular

डीएम अविनाश कुमार, सीडीओ आकांक्षा राना समेत 126 महादानियों ने किया रक्तदान

हरदोई। अमर उजाला फाउंडेशन के तत्वावधान में बुधवार को आयोजित रक्तदान शिविर में 126 महादानियों ने रक्तदान कर समाज को जनहित में...

क्या है ‘ग्लू ग्रांट’ (Glue Grant) योजना व ‘मेटा विश्‍वविद्यालय’ (Meta University)अवधारण?

चालीस केंद्रीय विश्वविद्यालय अकादमिक क्रेडिट बैंक व यूजी पाठ्यक्रमों में बहु-विषयक (multidisciplinary) को प्रोत्साहित करने के लिए ग्लू ग्रांट (Glue Grant) जैसे...

रोजा-इफ्तार कराने वाले लगा रहे संगम में डुबकी:उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य

हरदोई : रसखान प्रेक्षागृह में पांच अरब 96 करोड़ 95 लाख रुपये की 159 कार्यों की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने...

65 बाघों का घर, पीलीभीत टाइगर रिजर्व, Pilibhit Tiger Reserve

पीलीभीत बाध अभयारण्य उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में स्थित है और 2014 में इसे टाइगर रिजर्व के रूप में अधिसूचित किया...

Recent Comments

Translate »