Home उत्तर प्रदेश केजीएमयू में सामान्य मरीजों के लिए 14 जून से शुरू होगी ओपीडी

केजीएमयू में सामान्य मरीजों के लिए 14 जून से शुरू होगी ओपीडी

लखनऊ। एसजीपीजीआई और लोहिया संस्थान के बाद केजीएमयू में भी 14 जून से ओपीडी शुरू हो रही है। ओपीडी के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य होगी। बृहस्पतिवार को कुलपति डॉ. बिपिन पुरी ने बैठक करते हुए कोरोना प्रोटोकॉल के साथ ओपीडी शुरू करने की बात कही। कोविड रिपोर्ट केवल तीन दिन पुरानी ही मान्य होगी।

पीलीभीत टाइगर रिजर्व में बसती है सांपों का अद्भुत दुनिया

ओपीडी सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक चलेगी। मरीजों की भर्ती संबंधित विभाग में खाली बेड के आधार पर होगी। एक मरीज के साथ एक तीमारदार ही आ सकता है। उसे भी कोरोना की रिपोर्ट लानी होगी। बता दें कि राजधानी में कोरोना का संक्रमण लगभग समाप्त होने से केजीएमयू में भी अब कोविड के इक्का दुक्का मरीज ही बचे हैं। इसलिए यहां भी सामान्य ओपीडी दोबारा शुरू हो रही है। सामान्य दिनों में केजीएमयू की ओपीडी में 10 हजार मरीज आते थे।

सुपर स्पेशियलिटी में देखे जाएंगे 50 मरीज:डॉ. सुधीर सिंह

केजीएमयू प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने बताया कि सुपर स्पेशियलिटी विभागों की ओपीडी हफ्ते के तीन दिन ही चलेगी। रोजाना केवल 50 मरीज देखे जाएंगे, जिसमें 20 नए व 30 पुराने मरीज होंगे। कॉर्डियोलॉजी, जनरल सर्जरी, मेडिसिन समेत नॉन स्पेशियलिटी विभागों की ओपीडी पूरे सप्ताह चलेगी। यहां 50 नए व 50 पुराने मरीज देखे जाएंगे।

ओपीडी में आने के लिए मरीज ऑनलाइन व फोन पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। ऑनलाइन पंजीकरण के लिए केजीएमयू की वेबसाइट www.kgmu.org या www.ors.gov.in पर लॉगइन कराना होगा। इसके अलावा 0522-2258880 पर फोन करके भी पंजीकरण करा सकते हैं। इसके साथ ई-संजीवनी सेवा भी चलती रहेगी।

देश की हर नौकरी की खबर आप तक सबसे पहले आपकी अपनी एप्प “रोजगार अलर्ट “पर

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.hdibharat.rojgaralert
- Advertisment -

Most Popular

जहरीली शराब पीने से चार की मौत, 6 की हालत गंभीर

रायबरेली : उत्‍तर प्रदेश के रायबरेली के महाराजगंज कोतवाली क्षेत्र के पहाड़पुर गांव में शराब पीने से चार लोगों की मौत...

भाजपा में बगावत, पूर्व MLA सतीश वर्मा ने बसपा से ठोकी ताल

हरदोई : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, वैसे वैसे दल- बदल का खेल तेज हो गया है।...

‘स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी’: समानता के लिए काम करने वाले संत रामानुजाचार्य को एक सच्ची श्रद्धांजलि

HBN: 11वीं सदी के सुधारक और वैष्णव संत, श्री रामानुज (रामानुजाचार्य)की 216 फीट ऊंची 'स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी' पर काम तेजी से चल...

समस्त निर्वाचन कार्मिकों को कोविड टीकाकरण का बूस्टर डोज प्रशिक्षण कक्ष में ही कराये जाने की व्यवस्था की जा रही हैः-आकांक्षा राना

हरदोई : मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी अधिकारी कार्मिक, कार्मिक एवं प्रशिक्षण आकांक्षा राना ने बताया है कि विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 में...
Translate »