Home उत्तर प्रदेश Ayush College: आयुष कॉलेजों में फर्जीवाड़े से एडमिशन लेने वाले 891 छात्र...

Ayush College: आयुष कॉलेजों में फर्जीवाड़े से एडमिशन लेने वाले 891 छात्र निलंबित, दस्तावेज सील

उत्तर प्रदेश: आयुष कॉलेजों में फर्जीवाड़े से हुए एडमिशन के मामले में लिप्त पाए गए सभी छात्रों को निलंबित कर दिया गया है। निलंबित किये सभी छात्रों को हॉस्टल छोड़ने का आदेश दिया गया है. लेकिन इन सभी दस्तावेज सील कर दिए गए हैं।

प्रदेश के आयुर्वेदिक एवं यूनानी और होम्योपैथी मेडिकल कॉलेजों में लगभग हजारों छात्रों ने फर्जीवाड़े कर प्रवेश ले लिया था। आयुष विभाग ने जब जांच की तब उसमे 891 छात्र संदिग्ध मिले हैं।

यह भी पढ़ें: हरदोईः अब इन 7 मार्गों पर रोडवेज बसें फरेंगी फर्राटे

सभी सरकारी कॉलेजों के प्रधानाचार्य ने संदिग्ध छात्रों को निलंबित कर दिया है। जबकि निजी कॉलेजों के छात्रों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई चल रही है। लगभग 10 प्राइवेट कॉलेजों ने छात्रों को निलंबित करने की सूचना आयुष विभाग में भेज दी है जबकि बचे हुए कालेजों की रिपोर्ट अभी तक कार्यालय नहीं पहुंची है। आज देर शाम तक यह रिपोर्ट आयुष विभाग में पहुंचने की उम्मीद है।

मिली जानकारी के अनुसार अभी छात्रों के खिलाफ किसी तरह की तरह की कार्रवाई नहीं होगी। जांच पड़ताल के बाद ही इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

- Advertisement -

लेटेस्ट

21 हजार का चेक, टैबलेट और प्रशस्ति पत्र पाकर मेधावी छात्र/छात्रायें हुए गदगद

हरदोई: "परीक्षा पे चर्चा" कार्यक्रम को आज सम्पूर्ण जनपद के माध्यमिक विद्यालयों मे देखा गया। जिसमे प्रधानमंत्री ने छात्र/छात्राओं को परीक्षा से...

मंत्री नितिन अग्रवाल ने 74वें गणतंत्र दिवस पर किया ध्वजा रोहण, कहा देश ने सभी क्षेत्रों में कीर्तिमान स्थापित किया

हरदोई: 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन में आयोजित भव्य कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में राज्य मंत्री आबकारी...

Hardoi News: बड़ी धूमधाम से मनाया गया 74वां गणतंत्र दिवस, 26 विभागों ने निकाली झांकी

हरदोई: आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, चिकित्सा अधिकारी ने अपने कार्यालय सहित जनपद के सभी कार्यालयों,...

Hardoi: 2 साल में भी पूरा न हो सका रेलवे ओवरब्रिज, काम की धीमी गति पर नाराज हुए डीएम

हरदोई: जनपद में शाहाबाद आंझी रेलवे क्रासिंग पर पिछले दो सालों से बन रहे रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण अभी तक पूरा नहीं...