Home हरदोई भाजपा में बगावत, पूर्व MLA सतीश वर्मा ने बसपा से ठोकी ताल

भाजपा में बगावत, पूर्व MLA सतीश वर्मा ने बसपा से ठोकी ताल

हरदोई : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, वैसे वैसे दल- बदल का खेल तेज हो गया है। दूसरे दल के मजबूत नेताओं को तोड़ने-फोड़ने का काम जारी है। ऐसा पहली बार नहीं हो रहा, हर चुनाव से पहले एक पार्टी के नेता दूसरी पार्टी में चले जाते हैं।

इस बीच उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में टिकट वितरण के बाद उपजे असंतोष के बीच हो रही बगावत ने भाजपा की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। बीजेपी के सामने अब इस असंतोष से निपटने की बड़ी चुनौती है। इसको लेकर भाजपा थिंक टैंक से लेकर पुराने लोगों ने सबको साथ बनाए रखने की कोशिशें तेज कर दी हैं। 

यह भी पढ़े : 2 महीने के भीतर शुरू हो जाएगी कोरोना के खात्‍मे की कहानी

भाजपा ने जिले की सभी 8 सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। जिसमें सिर्फ दो स्थानों पर परिवर्तन किया है, शेष सभी 6 सीटों पर सीटिंग विधायक हैं। भाजपा की टिकट सूची जारी होने के बाद जिन दावेदारों को टिकट नहीं मिल पाया उनमें से कुछ लोगों और उनके समर्थकों के बीच एक असंतोष की बात सामने आई है।

जिसके बाद भाजपा ने रूठों को मनाने का प्रयास शुरू तो किया मगर भाजपा की पूर्व सांसद एवं  राष्ट्रीय अनुसूचित जाति-जन जाति आयोग की सदस्य अंजू बाला के पति पूर्व विधायक सतीश वर्मा ने बागी तेवर दिखाते हुए बसपा से बिलग्राम विधानसभा क्षेत्र से ताल ठोक दी है।

यह भी पढ़े : स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी’: समानता के लिए काम करने वाले संत रामानुजाचार्य को एक सच्ची श्रद्धांजलि

इसी तरह हरदोई सदर सीट पर बीजेपी से गत चुनाव में प्रत्याशी रहे राजा बक्स सिंह खुलकर असंतोष व्यक्त कर चुके हैं और लगातार सदर सीट से घोषित प्रत्याशी के खिलाफ नाराजगी और विरोध जताया है। राजा बक्स सिंह का यह विरोध पूरी तरह से बगावत सा लग रहा है। उनके द्वारा किसी न किसी रूप से सदर सीट से चुनाव में ताल ठोक जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है । 

शाहाबाद सीट पर बीजेपी के प्रत्याशी रहे वरिष्ठ नेता अखिलेश पाठक के खेमे में भी टिकट न मिलने से गहरी नाराजगी है। हालांकि अखिलेश पाठक ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है मगर उनके समर्थकों की ओर चुनाव लड़ने का दबाव बनाए जाने की चर्चाएं है।  

संडीला विधानसभा क्षेत्र में सिटिंग विधायक राजकुमार अग्रवाल का टिकट कट जाने से उनके समर्थकों में भी असंतोष है। इसके अलावा कुछ और स्थानों पर भी इसी तरह के असंतोष के स्वर महसूस किए गए। इस तरह अंसतोष के बीच शुरू हो चुकी बगावत के बाद भाजपा के लिए बगावत और भितरघात को रोकना बड़ी चुनौती हो सकता है।

Most Popular

Hardoi News: विकास कार्यों का राज्यमंत्री रजनी तिवारी ने किया लोकार्पण

विपुल मिश्रापिहानी/हरदोई: उच्चशिक्षा राज्य मंत्री रजनी तिवारी ने ब्लाक कार्यालय पर क्षेत्र पंचायत द्वारा कराए गए विकास कार्यों का लोकार्पण किया। कार्यक्रम...

Hardoi News: शादी का झांसा देकर छात्रा का शारीरिक शोषण करने का आरोप,रिपोर्ट दर्ज

कछौना/हरदोई: कोतवाली क्षेत्र के एक युवक पर छात्रा ने शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया। पीड़िता की तहरीर...

WhatsApp : व्हाट्सएप ने 2.38 करोड़ खातों पर लगाई रोक

50 करोड़ से ज्यादा भारतीय व्हाट्सएप इस्तेमाल करते हैं। 2011 की जनगणना के लिहाज से देखें तो 108 करोड़ की वयस्क आबादी...

निरीक्षक, उपनिरीक्षक सहित 7 का तबादला, रंन्धा सिंह थानाध्यक्ष बेहटा गोकुल तो ओम प्रकाश सिंह बने थानाध्यक्ष सुरसा

हरदोई: एसपी ने तीन निरीक्षक व चार उपनिरीक्षकों का तबादला किया है। कानून व्यवस्था अधिक सुदृढ़ बनाए रखने को लेकर एसपी ने निरीक्षक,...
close