Home फर्रुखाबाद बेटियों को किसके सहारे छोड़ दूं। इसलिए वह दोनों बच्चों के साथ...

बेटियों को किसके सहारे छोड़ दूं। इसलिए वह दोनों बच्चों के साथ आत्महत्या कर रहा है। आई मिस यू प्रीती। 

फर्रुखाबाद: फर्रुखाबाद के बहादुरगंज में गुरुवार की रात एक शिक्षक ने दो मासूम बेटियों की हत्याकर खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली । पास में सुसाइड नोट मिला है। इसमें पत्नी की मौत से दुखी होकर आत्महत्या करने की बात लिखी है।

एक निजी इंटर कॉलेज में पढ़ाने वाले सुनील जाटव घर पर बच्चों को ट्यूशन भी पढ़ाते थे। शुक्रवार सुबह बच्चों के पहुंचने पर उनका कमरा नहीं खुला तो मकान की ऊपरी मंजिल में रहने वाले मामा रामनाथ और पड़ोसी सिपाहियों ने दरवाजा तोड़ा गया तो सुनील का शव फंदे से लटक रहा था। बेटी श्रष्टि (12) और सगुन (8) के शव बेड पर पड़े थे। दोनों की गला दबाकर हत्या की गई थी।

सुनील के शव के पास जो सुसाइड नोट मिला। इसमें लिखा है कि पत्नी प्रीती के बिना जीवन अधूरा है। वह दोनों बच्चियों के साथ उसी के पास जा रहा है। घटना से मोहल्ले में हड़कंप मच गया। फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची। 

पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा ने बताया कि दोनों बेटियों की हत्या कर सुनील ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। रामनाथ ने बताया कि सुनील उनका भांजा है। पांच माह की उम्र में उसे गोद ले लिया था। सुनील की पत्नी प्रीती की दो माह पूर्व लखनऊ के मोहनलाल गंज स्थित मायके में करंट की चपेट में आकर मौत हो गई थी। उसके बाद से ही वह तनाव में था। 

सुसाइड नोट में लिखा प्रीती ने जीना सिखाया, अब उसके बिना कैसे रहूं

सुनील पत्नी की मौत के बाद से डिप्रेशन में रहता था। उसके शव के पास मिले डेढ़ पेज के सुसाइड नोट में पत्नी के लिए लिखा है कि प्रीती ने जीना सिखाया, अब उसके बिना कैसे रहूं। बेटियों को किसके सहारे छोड़ दूं। इसलिए वह दोनों बच्चों के साथ आत्महत्या कर रहा है। आई मिस यू प्रीती। 

लिखा है कि फर्रुखाबाद या भोगांव का परिवार किसी का कोई दबाव नहीं है। जो काम करने जा रहा है, उससे काफी शर्मशार हूं। और दोनों परिवार सहयोग बनाए रखना। अपनी पत्नी प्रीती के बिना नहीं रह पा रहा हूं।आज वह नहीं है, तो मेरे जीवन में कुछ नहीं है। प्रीती ने अपना जीवन मेरे लिए समर्पित कर दिया था। प्रीती की ही देन थी कि उसने गांव के लड़के का जीवन बदल दिया।

आगे लिखा कि अगले जन्म में आऊंगा, तो ऐसा नसीब नहीं लेकर आऊंगा। जन्म हुआ, तो मां नहीं। शादी हुई, तो पत्नी नहीं। मेरा और बेटियों का पोस्टमार्टम न कराएं।

यह भी पढ़ें : सेना में भर्ती दौड़ की प्रैक्टिस कर रहे युवाओं को ट्रैक्टर ने मारी टक्कर, एक की मौत 2 घायल

- Advertisement -

लेटेस्ट

हरदोई: अस्पताल परिसर में थूका तो देना हो 500 रुपये जुर्माना

हरदोई: जिला अस्पताल परिसर में निर्माणाधीन ओपीडी भवन का जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने सघन निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान निर्माण की...

हरदोई: दिनदहाड़े हुई 3 लाख की लूट का हुआ पर्दाफाश, 2 आरोपी गिरफ्तार, तमंचे के साथ रुपये भी बरामद

हरदोई: शाहाबाद में जनसेवा केंद्र संचालक से दिनदहाड़े हुई लूट का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने दो बदमाशों को...

Hardoi News: 2 करोड़ से बनेगा पाली रोडवेज बस अड्डा, बहुत जल्द शुरू होगा निर्माण कार्य

पाली /हरदोई:अब पाली नगर में प्रस्तावित रोडवेज बस अड्डे के लिए अब क्षेत्रीय लोगों को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा।  जल्दी ही...

हरदोई: अच्छा उत्पादन करने वाले कृषकों को किया जाये सम्मानित: जिलाधिकारी

हरदोई: कलेक्ट्रेट सभागार में शनिवार को जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा...