Home क्राइम शाहजहांपुर: छात्रा से दरिंदगी के सबूत मिटाने की कोई कसर नहीं छोड़ी

शाहजहांपुर: छात्रा से दरिंदगी के सबूत मिटाने की कोई कसर नहीं छोड़ी

शाहजहांपुर। दुष्कर्म की कोशिश के बाद छात्रा को जलाने वाले दरिंदों ने सबूत मिटाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। लेकिन छात्रा के जिंदा बच जाने और उसके बयान ने अपराधियों को बेनकाब कर दिया। पुलिस चारों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

छात्रा के साथ जघन्य वारदात करने वाले काफी प्लानिंग के साथ आए थे। सहेली के जरिये धोखे से उसे डैम रोड पर बुलाया। वहां पहले से तैयारी कर तीनों आरोपी खड़े थे। उन्हें अंदाजा था कि छात्रा विरोध करेगी। छात्रा पर काबू पाने के लिए उनके पास संभवत: ऐसा कुछ नशीला पदार्थ था जिसे सुंघाकर और मुंह में कपड़ा ठूंसकर वे बाइक से छात्रा को वारदात स्थल तक ले गए। वे अपने साथ बोतल में केरोसिन लेकर आए थे ताकि उसे जिंदा जलाकर मार दें और किसी को पता न चल सके। हुआ भी ऐसा। लेकिन छात्रा के जबरदस्त विरोध और संघर्ष के कारण वे अपने मंसूबे में कामयाब न हो सके। उन्हें भागना पड़ा।

पुलिस (Police ) कर्मियों के साथ मारपीट,वर्दी फाड़ी, दो महिलाओं सहित 7 पर FIR

छात्रा को जब जलाया तो आरोपियों को यकीन था कि छात्रा गन्ने के खेत में ही दम तोड़ देगी और फसल के अंदर कई दिन तक लोगों को शव की जानकारी नहीं होगी। शव मिलने के बाद पहचान भी नहीं होगी। मगर छात्रा ने इस विषम परिस्थिति में भी हौसला दिखाते हुए अपने शरीर से जल रहे कपड़े उतार फेंके और गन्ने की फसल से निकलकर गेहूं के खेत में आ गई। फसल में लोट-लोटकर आग बुझा ली। कई घंटे की बेहोशी के बाद ग्रामीणों व पुलिस की मदद से अस्पताल तक आई। छात्रा के पास मोबाइल भी नहीं था। यह बात आरोपियों को पता थी। वारदात के बाद सारे आरोपी घर लौट गए।

जिस तरह से उनके मोबाइल की लोकेशन वारदात के आसपास नहीं मिल रही है, उससे लग रहा है कि उन्हें अंदाजा था कि पुलिस मोबाइल से ही उनकी लोकेशन तलाशेगी। आशंका है कि वे लोग अपने मोबाइल वारदात के वक्त लेकर नहीं गए थे।

Recruitment: ऐडेड बेसिक स्कूलों में 1504 असिस्टेंट टीचर के और 390 प्रिंसिपल की भर्ती, नोटिफिकेशन आज होगा जारी

चारों आरोपी पुलिस हिरासत में हैं। पुलिस कॉल डिटेल, मोबाइल लोकेशन के साथ ही आरोपियों की बताई गई लोकेशन के आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी चेक कर रही है। तीसरा युवक एसएस कॉलेज का छात्र है और वारदात के दिन कॉलेज में था। आरोपी खुद को वारदात स्थल से दूर बता रहे हैं। इस वजह से पुलिस उनके द्वारा बताई गई लोकेशन के आसपास के लोगों से पूछताछ और सीसीटीवी फुटेज वगैरह को खंगाल रही है ताकि वारदात के दिन के उनके मूवमेंट को पकड़ा जा सके। वारदात स्थल के आसपास सीसीटीवी फुटेज नहीं मिल पा रहे हैं। मुख्य आरोपी का फुफेरा भाई पुवायां का रहने वाला बताया जा रहा है।

क्लिक करें: देश और प्रदेश की लेटेस्ट ख़बरों के लिए अभी डाउनलोड करें HDI Bharat News App

पुलिस आरोपियों के खिलाफ ठोस सुबूत जुटाने में लगी है। इसमें हिरासत में लिए गए आरोपियों के बयान, उनकी कॉल रिकार्ड, वारदात के वक्त उनकी लोकेशन प्रमुख है। आरोपी वारदात के वक्त खुद के घटनास्थल से काफी दूर होने की बात कह रहे हैं लेकिन इसको साबित करने के सुबूत पेश नहीं कर पा रहे हैं। पुलिस एक-दो दिन में वारदात से रहस्य का पर्दा हटा सकती है।

छात्रा के बयान से जो सामने आया है, उससे लग रहा है कि आरोपी प्लानिंग के साथ आए थे। दुष्कर्म में नाकाम होने पर छात्रा को जलाना चाहते थे इसीलिए बोतल में केरोसिन साथ लेकर आए थे। फिर भी पुलिस विवेचना में जो तथ्य सामने आएंगे, उसके मुताबिक पुलिस एफआईआर की धाराओं में बढ़ोतरी करेगी। -एस आनंद, एसपी शाहजहांपुर

Most Popular

Hardoi News: विकास कार्यों का राज्यमंत्री रजनी तिवारी ने किया लोकार्पण

विपुल मिश्रापिहानी/हरदोई: उच्चशिक्षा राज्य मंत्री रजनी तिवारी ने ब्लाक कार्यालय पर क्षेत्र पंचायत द्वारा कराए गए विकास कार्यों का लोकार्पण किया। कार्यक्रम...

Hardoi News: शादी का झांसा देकर छात्रा का शारीरिक शोषण करने का आरोप,रिपोर्ट दर्ज

कछौना/हरदोई: कोतवाली क्षेत्र के एक युवक पर छात्रा ने शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया। पीड़िता की तहरीर...

WhatsApp : व्हाट्सएप ने 2.38 करोड़ खातों पर लगाई रोक

50 करोड़ से ज्यादा भारतीय व्हाट्सएप इस्तेमाल करते हैं। 2011 की जनगणना के लिहाज से देखें तो 108 करोड़ की वयस्क आबादी...

निरीक्षक, उपनिरीक्षक सहित 7 का तबादला, रंन्धा सिंह थानाध्यक्ष बेहटा गोकुल तो ओम प्रकाश सिंह बने थानाध्यक्ष सुरसा

हरदोई: एसपी ने तीन निरीक्षक व चार उपनिरीक्षकों का तबादला किया है। कानून व्यवस्था अधिक सुदृढ़ बनाए रखने को लेकर एसपी ने निरीक्षक,...
close