होमहरदोईथाना समाधान दिवस: सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ...

थाना समाधान दिवस: सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्यवाही करें: डीएम

हरदोई: माह के द्वितीय शनिवार को थाना पचदेवरा में सम्पूर्ण थाना समाधान दिवस का आयोजन जिलाधिकारी अविनाश कुमार की अध्यक्षता में किया गया।

थाना समाधान दिवस में जिलाधिकारी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में किसी भी गौशाला, कब्रिस्तान, चकरोड, खेल मैदान आदि सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर समस्त सरकारी भूमि कब्जा मुक्त कराये और कब्जा करने वालों के विरूद्व एंटी भूमाफिया के अन्तर्गत कार्यवाही करें।

आबादी की भूमि पर कोर्ट का आदेश आने तक किसी प्रकार का निर्माण नहीं किया जायेगा:-डी0एम0

थाना समाधान दिवस में ग्राम अनकपुर में लगने वाली रामलीला की आबादी की भूमि पर कोर्ट में वाद विचाराधीन होने के बाद भी दो लोगों द्वारा अवैध निर्माण की शिकायत पर जिलाधिकारी ने सख्त नाराजगी व्यक्त की. उपजिलाधिकारी न्याययिक सवायजपुर तथा कानूनगो को निर्देश दिये कि उक्त आबादी की भूमि पर कोर्ट का आदेश आने तक किसी के द्वारा किसी प्रकार का निर्माण नहीं किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने थानाध्यक्ष पचदेवरा को निर्देश दिये कि अवैध निर्माण करने वाले दोनों पक्षों को पांच-पांच लाख रूपया के मुचलके पर वानडाउन करें तथा बीट सिपाहियों के माध्यम से नियमित उक्त स्थल की जानकारी लें और दोनों पक्षों में से किसी के द्वारा आदेश का उल्लघंन करने पर विधिक कार्यवाही करते हुए जेल भेजें।

वरासत संबंधी शिकायतों के संबंध में जिलाधिकारी ने एसडीएम न्याययिक को निर्देश दिये कि ग्रामीणों के वरासत से संबंधित सभी प्रकरणों को एक सप्ताह में निस्तारण करायें। थाना समाधान दिवस में प्राप्त मात्र तीन शिकायतों के संबंध में जिलाधिकारी ने राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को समय से निस्तारत करने के निर्देश दिये।

थाना समाधान दिवस: गांव के आराजक, आसामाजिक, अपराधिक तथा दंबग लोगांे की गतिविधियों पर नजर रखें:- पुलिस अधीक्षक

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राजेश द्विवेदी ने कहा कि राजस्व एवं पुलिस विभाग के कर्मचारी आपस में समन्वय बनाकर गांवों का नियमित निरीक्षण करें तथा छोटे-छोटे विवादों का निस्तारण ग्राम प्रधान, सचिव एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थित में गांव में ही आपसी सुलह समझौते के आधार पर करायें।

उन्होने थानाध्यक्ष को निर्देश दिये कि क्षेत्र में शान्ति बनाये रखने के लिए गांव के आराजक, आसामाजिक, अपराधिक तथा दंबग लोगों की गतिविधियों पर नजर रखें तथा इनके बारे में बीट सिपाही व चौकीदारों के माध्यम से नियमित जानकारी लें।

यह भी पढ़ें : 

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें