Homeहरदोईसंवाद कार्यक्रम: पूर्व पुलिस महानिदेशक ने कहा, उद्योग स्थापित कर अन्य लोगों...

संवाद कार्यक्रम: पूर्व पुलिस महानिदेशक ने कहा, उद्योग स्थापित कर अन्य लोगों को भी रोजगार उपलब्ध करायें

हरदोई: जिला प्रशासन की ओर से स्थानीय रसखान प्रेक्षागृह में आयोजित सेवानिवृत्त वरिष्ठ अधिकारियों/सेवारत शिक्षाविदों द्वारा महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं के संवाद उन्मुखीकरण कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि पूर्व पुलिस महानिदेशक के0एल0 गुप्ता एवं विशिष्ट अतिथि विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा ए0 दिनेश कुमार ने दीप प्रज्जवलित कर किया।

इस अवसर पर उपस्थित छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि भारत एवं प्रदेश सरकार युवक-युवतियों तथा छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के साथ आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए बहुत सारी योजनाएं चलायी जा रही है और उन्ही योजनाओं के माध्यम से प्रदेश में उद्योग को बढ़ावा देने के लिए रोजगार परक शिक्षा प्रारम्भ की गयी है ताकि जो बच्चों को शिक्षा के साथ रोजगार परक जानकारी दी सके।

उन्होने कहा कि देश तथा प्रदेश को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए संबंधित विभागों से रोजगार संबंधी योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर उद्योग स्थापित कर अन्य लोगों को रोजगार उपलब्ध करायें।

पढ़ाई के साथ स्वयं का रोजगार स्थापित करने की ओर कदम बढ़ायें :-ए0 दिनेश कुमार

विशिष्ट अतिथि ए0 दिनेश कुमार ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज प्रदेश उद्यम स्थापना में कीर्तिमान स्थापित कर रहा है और देश एवं विदेशी कंपनियों द्वारा उद्योग लगाने हेतु सहमति प्रदान की जा रही है और आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश, उत्तम प्रदेश बनेगा। उन्होने छात्र-छात्राओं से कहा कि प्रदेश के उज्जवल भविष्य के लिए पढ़ाई के साथ स्वयं का रोजगार स्थापित करने की ओर कदम बढ़ायें और प्रदेश को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने में अपना योगदान दें।

नवाचार को बढ़ावा देने के साथ रोजगार परक शिक्षा पर विशेष ध्यान दें :- एम0पी0 सिंह

कार्यक्रम में जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने छात्र-छात्राओं को भारत एवं उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जिला उद्योग केन्द्र, खादी ग्रामोद्योग, मछली विभाग आदि की योजनाओं के बारे में विस्तार जानकारी देते हुए कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा युवा स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण तथा आईटीआई द्वारा रोजगार मेलों का आयोजन कर युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है।

जिलाधिकारी ने छात्र-छात्राओं से कहा कि असफलता में ही सफलता छूपी होती है, इसलिए असफलता पर निराश न हो बल्कि आगे की सफलता के लिए पूरे मनोयोग से तैयारी करें और सफलता हासिल करें और कुछ नया कर नवाचार को बढ़ावा देने के साथ रोजगार परक शिक्षा पर विशेष ध्यान दें। कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि को शाल व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक राजेश द्विवेदी, मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना, जिला विद्यालय निरीक्षक वीके दुबे, सेवारत शिक्षाविदों आदि ने छा़त्र-छात्राओं से संवाद किया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वन्दना त्रिवेदी, नगर मजिस्ट्रेट प्रशान्त तिवारी, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट दिव्या मिश्रा, डीडी कृषि डा0 नन्द किशोर, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी राम प्रकाश वर्मा, जिला सूचना अधिकारी संतोष कुमार सहित भारी संख्या में महाविद्यालयों के छात्र-छात्राएं एवं शिक्षक आदि उपस्थित रहें।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें