Homeअयोध्याAyodhya Ram Mandir: राम मंदिर के गर्भगृह में इस तकनीकी कमी से...

Ayodhya Ram Mandir: राम मंदिर के गर्भगृह में इस तकनीकी कमी से पुजारी परेशान, नहीं मिल रहा समाधान

Ayodhya Ram Mandir: हजारों करोड़ की लागत से अयोध्या में बने राम मंदिर के गर्भगृह में एक तकनीकी गलती ने वहां के पुजारियों को मुसीबत में डाल दिया है। गर्भगृह में रामलला को स्नान, अभिषेक कराने के बाद जो पानी फर्श पर गिरता है, उसकी निकासी की व्यवस्था नहीं की गई है।

राम मंदिर के एक पुजारी ने बताया कि रामलला के श्रृंगार से पहले प्रत्येक दिन उन्हें स्नान कराया जाता है। सरयू जल के साथ उन्हें मधु पर्क (दूध, दही, घी, शहद) से भी स्नान कराया जाता है। मधु पर्क से स्नान कराने के बाद उन्हें फिर से सरयू जल से स्नान कराया जाता है। रामलला को स्नान के बाद जो पानी फर्श पर गिरता है उस पानी को निकालने की कोई व्यवस्था ही नहीं है। 

पुजारी ने बताया स्नान के लिए एक बड़ी थाल नीचे रखते हैं ताकि पानी उसी में गिरे, बाद में इसे पौधों में अर्पित कर दिया जाता है। जो थोड़ा बहुत पानी बचता है, उसे सुखा लिया जाता है।

Ayodhya Ram Mandir: तोड़फोड़ हुई तो बिगड़ जाएगी सुंदरता

पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं होने के कारण भीषण गर्मी के बावजूद गर्भगृह में एसी भी नहीं लग पा रहा। गर्भगृह का निर्माण पत्थरों से किया गया है। एसी लगाने के लिए पत्थरों को तोड़ना पड़ेगा। जल निकासी की व्यवस्था करने के लिए भी तोड़फोड़ करनी पड़ेगी। पत्थरों पर भव्य नक्काशी की गई है, ऐसे में तोड़फोड़ से गर्भगृह की सुंदरता बिगड़ जाएगी।

यह तकनीकी रूप से भी आसान नहीं है, क्योंकि राममंदिर में एक पत्थर के ऊपर दूसरे पत्थर को जोड़ा गया है। जरा-सी छेड़छाड़ भी संभव नहीं है। राममंदिर के इंजीनियर इसको लेकर मंथन करने में जुटे हुए हैं। इस संबंध में राममंदिर ट्रस्ट ने कुछ भी कहने से इन्कार किया है।  

Latest Hardoi News के लिए क्लिक करें..

यह भी पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें