Homeहरदोईआई फ्लू का कहर: बावन केजीबीवी की 24 छात्राएं आई फ्लू की...

आई फ्लू का कहर: बावन केजीबीवी की 24 छात्राएं आई फ्लू की चपेट में, कैसे बचें

बावन/हरदोई: बावन ब्लाक के जगदीशपुर गांव में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में आई फ्लू का कहर देखने को मिला है यहाँ एक साथ 24 छात्राओं को आई फ्लू का संक्रमण फैलने से स्टाफ में खलबली मच गई। इसके बाद शिक्षकों ने बावन सीएचसी प्रभारी को सूचना दी। इसके बाद इलाज शुरु कर दिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार को कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में एक साथ 24 छात्राओं को eye flu की चपेट में आ गईं। इसकी सूचना बावन सीएचसी में डॉक्टर को दी। सूचना पर डॉक्टरों की टीम मौके पर पहुंच कर सभी छात्राओं का उपचार किया।

सीएचसी प्रभारी डॉ. पंकज मिश्रा ने बताया कि सूचना मिलने पर नेत्र परीक्षण अधिकारी अखिलेश श्रीवास्तव को टीम के साथ विद्यालय भेजा गया था। सभी छात्राओं का उपचार किया गया और साथ बचाव के तरीके बताए गए।

आई फ्लू क्या है?

आई फ्लू एक वायरल इंफेक्शन होता है, जो आंखों को संक्रमित कर देता है. डॉक्टर्स की भाषा में इसे कंजक्टिवाइटिस कहा जाता है. आमतौर पर यह वायरस या बैक्टीरिया की वजह से होता है. हालांकि इन दिनों जो फ्लू लोगों को अपना शिकार बना रहा है, वह वायरल इंफेक्शन है.

Eye Flu का इलाज?

आई फ्लू का इलाज इस बात निर्भर करता है कि वो किस तरह का आई फ्लू है. अगर वायरल eye flu है तो वो सेल्फ लिमिटिंग टाइप का आई फ्लू होता है जो समय के साथ ठीक हो जाता है. लेकिन उसमें भी पेन रिलिवर और जरूरी दवाएं दी जाती हैं. बैक्टीरियल और एलर्जिक eye flu की जांच के बाद उसका ट्रीटमेंट किया जाता है. इसके साथ ही आंखों में ठंडी सिकाई भी की जा सकती है.

- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -

लेटेस्ट