Homeसीतापुरभविष्य में नैमिषारण्य भव्य और दिव्य नजर आएगा, पर्यटन विभाग ने तैयार...

भविष्य में नैमिषारण्य भव्य और दिव्य नजर आएगा, पर्यटन विभाग ने तैयार किया मेगा प्लान, जाने क्या होंगें बदलाव

नैमिषारण्य/सीतापुर: 88 हजार ऋषि-मुनियों की तपोस्थली नैमिषारण्य बहुत जल्द भव्य और दिव्य नजर आएगी। नैमिषारण्य की सभी सरकारी व निजी इमारतों को मंदिर की तरह लुक दिया जाएगा। सभी इमारतों की डिजाइन एक जैसी होगी। चौड़ी सड़कें, पार्किंग, सीवर, पांच सितारा होटल व रेस्तरां, महानगरों की तर्ज पर ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम नैमिषारण्य को नई पहचान देंगे।

व्हाटऐप चैनल से जुड़ें Join Now
टेलीग्राम चैनल से जुड़ें Join Now
गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें Follow

नैमिषारण्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ऐसा ही खाका खींचा गया है। नैमिषारण्य को आध्यात्मिक व दिव्य स्वरूप देने के लिए पर्यटन विभाग ने मेगा प्लान तैयार कर लिया है। सोमवार को पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह के समक्ष विभागीय अफसरों ने स्लाइड शो के माध्यम से विकास योजना का प्रस्तुतिकरण किया।

लखनऊ की AKTU फर्म ने इस मेगा प्लान तैयार किया है। इस प्रोजेक्ट को राहुल जाधव ने वीडियो के माध्यम से पेश करते हुए बताया कि 84 कोसी परिक्रमा मार्ग का सौन्दर्यीकरण भी प्लान में शामिल है। नैमिषारण्य की आध्यात्मिक पहचान को ध्यान में रखते हुए प्राचीन मां ललिता देवी मंदिर के प्रांगण का विस्तार और सौंदर्यीकरण, मां ललिता देवी मंदिर से राजघाट तक कॉरिडोर निर्माण, चक्रतीर्थ पर भव्य प्रवेश द्वार, चक्रतीर्थ के परिसर का विस्तार करते हुए इसका स्वरूप और भी आकर्षक बनाया जाएगा।

छोटे तीर्थों को जोड़कर एक अन्य तीर्थ बनाने की योजना भी है। मां ललिता देवी मंदिर के पास स्थित पंचप्रयाग मंदिर को हटाकर एक भव्य धार्मिक आइकॉन बनाने का मॉडल भी प्रस्तुत किया गया। मुरारका धर्मशाला को आध्यात्मिक म्यूजियम के रूप में विकसित करने के साथ इसके सामने एक जिला एक उत्पाद की तर्ज पर स्थानीय मंडी बनाने की योजना से भी पर्यटन मंत्री को अवगत कराया गया।

नैमिषारण्य बनेगा वैदिक सिटी

नैमिषारण्य का मेगा प्लान देखने के बाद पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह ने कहा कि इसकी गरिमा के अनुरूप वैदिक सिटी के रूप में विकास को सरकार प्रतिबद्ध है। भविष्य में नैमिषारण्य तीर्थ धार्मिक पर्यटन का हब बनेगा। इसलिए यहां जो भी विकास कार्य कराए जाएंगे वो भविष्य में पर्यटन की संभावनाओं और चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए ही संपन्न होंगे।

इस मौके पर एमएलसी पवन सिंह चौहान, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रद्धा सागर, विधायक रामकृष्ण भार्गव, ज्ञान तिवारी, मनीष रावत, भाजपा जिलाध्यक्ष अचिन मेहरोत्रा, डीएम अनुज सिंह, एसपी घुले सुशील चन्द्रभान मौजूद रहे।

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें