होमदेशइजरायल हमास युद्ध 47 दिन बाद आखिर हुआ बंद, जाने इजरायल का...

इजरायल हमास युद्ध 47 दिन बाद आखिर हुआ बंद, जाने इजरायल का पूरा प्लान

47 दिन बाद आखिर इजरायल हमास युद्ध का सीजफायर हो गया है. अब से जब तक सीजफायर है तब तक गाजा में तोप-बंदूक और फाइटर जेट्स की आवाजें रहेंगी. इजरायली कैबिनेट ने हमास के साथ युद्ध में सीजफायर को मंजूरी दे दी है. इसके बदले में हमास इजरायल के 50 बंधकों को छोड़ेगा. हमास के आतंकियों ने 7 अक्टूबर को इजरायल में अचानक हमला कर लगभग 240 बंधकों का अपहरण कर लिया था. 

Israel सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार अगले 4 दिनों में हमास इन सभी बंधकों को रिहा करेगा. इस दौरान इजरायल की तरफ से हमला पूरी तरह से बंद रहेगा. रिपोर्ट के अनुसार हमास जिन बंधकों को रिहा करेगा उनमें से अधिकतर महिलाएं और बच्चे शामिल हैं. बताया जा रहा है कि इन्हें 10 से 12 के ग्रुप्स में रिहा किया जाएगा. 

मीडिया के अनुसार जिन बंधकों को रिहा किया जाएगा उनमें 30 बच्चे, 8 माताएं और 12 महिलाएं शामिल हैं. Israel ने कहा, “इजरायली सरकार सभी अपहृत लोगों को घर लाने के लिए प्रतिबद्ध है. आज रात, सरकार ने इस लक्ष्य को प्राप्त करने के पहले चरण की रूपरेखा को मंजूरी दे दी, जिसके तहत कम से कम 50 इजरायलियों को जिनमे महिलाओं और बच्चे शामिल हैं, को चार दिनों के अन्दर रिहा किया जाएगा, इस दौरान सीजफायर रहेगा.”

10 लोगों की रिहाई के बदले 1 दिन बढ़ जाएगा सीजफायर

इजरायल ने यह भी कहा है कि यदि हमास 10 और बंधकों को छोड़ता है तो सीजफायर की एक दिन और बढ़ जाएगी. आपको बता दें कि अभी हमास के पास Israel के 240 लोग बंधक हैं. यानी कि अगर हमास 50 के अलावा 10 और इजरायली बंधकों को छोड़ता है तो इजरायल अपनी ओर से सीजफायर को एक दिन और बढ़ा देगा.

बता दें कि लगभग 42 दिनों से चली आ रही जंग में युद्धविराम कराने के लिए कतर में लगातार कूटनीतिक हलचलें चल रही थीं. इसमें कतर के अलावा अमेरिका भी शामिल है. राष्ट्रपति बाइडेन ने इस युद्धविराम को संभव कराने में अहम रोल निभाया है.

150 फिलिस्तीनी नागरिक भी होंगे रिहा

खबर यह भी है कि 50 बंधकों के बदले में इजरायल 150 फिलिस्तीन बंधकों को भी रिहा करेगा. हालांकि इजरायल सरकार की ओर से जारी बयान में इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है. सीजफायर की शर्तों का अभी भी पूरी तरह स्पष्ट नहीं है. 

खबर है कि ये ऐसे फिलिस्तीनी हैं जिनमे महिलाएं और बच्चे शामिल हैं.और ज्यादातर वेस्ट बैंक और पूर्वी जेरुशलम के रहने वाले हैं और जेलों में बंद थे. Israel ऐसे 150 लोगों को वापस लौटने की अनुमति दे रहा है. 

जंग जारी रहेगी: इजरायल

इजरायल सरकार ने यह भी कहा कि IDF और इजरायल की सेना हमास का सफाया करने तक और बंधक बनाए गए इजरायलियों की वापसी तक जंग जारी रखेगी. इजरायल के प्राइम मिनिस्टर बेंजामिन नेतान्याहू ने कैबिनेट की मीटिंग शुरू होने से पहले कहा- आज रात हमारे सामने एक कठिन फैसला लेना है, लेकिन यह सही फैसला है. 

कैबिनेट मीटिंग के दौरान विपक्ष ने सरकार को सतर्क किया कि इस समझौते से हमास की कैद में मौजूद सभी बंधकों को छुड़ाने की Israel की काबिलियत पर नकारात्मक असर पड़ेगा. इसके अलावा हमास को मिटाने के Israel के मिशन को और भी कठिन बना देगा. विपक्ष ने कहा कि एक बार जंग को अस्थायी रुप से रोकने के बाद इसे फिर से शुरू करने में कई परेशानी आएंगी. 

प्रधानमंत्री नेतान्याहू ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि IDF युद्धविराम का समय समाप्त होते और बंधकों के वापस आते ही फिर से युद्ध शुरू करेगा. 

नेतान्याहू ने कहा, “मैं स्पष्ट करना चाहता हूं. हम युद्ध में हैं और तब तक युद्ध में बने रहेंगे जब तक हम अपने सभी उद्देश्यों, हमास को नष्ट करने और अपने सभी बंदियों और लापता लोगों को वापस पाने में सफल नहीं हो जाते.” उन्होंने कहा कि हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि गाजा में ऐसी कोई इकाई नहीं होगी जो इजरायल को धमकी देगी.

spot_img
- Advertisment -

ताज़ा ख़बरें