Homeविदेशझुका हमास: गाजा पट्टी में बंधक बनाए गए 250 लोगों को रिहा...

झुका हमास: गाजा पट्टी में बंधक बनाए गए 250 लोगों को रिहा करने के लिए तैयार, रखी शर्त

spot_img

इस्राइल-हमास के बीच हो रहे युद्ध में अब तक लगभग 1400 इस्राइली लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं गाजा पट्टी में लगभग 3000 लोगों जान गंवानी पड़ी है। गाजा पट्टी में मंगलवार को एक अस्पताल में धमाके के बाद सैकड़ों लोगों के मारे जाने की खबर है। इस बीच हमास झुकता नजर आ रहा है, वह बंधक बनाए गए 200-250 इस्राइली नागरिकों को रिहा करने के लिए तैयार हो गया है, लेकिन इस्राइली नागरिकों को रिहा करने लिए उसने एक शर्त रखी है।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now
Google News Follow

इस्राइली वायु सेना (आईडीएफ) ने नहीं ली हमले की जिम्मेदारी

मंगलवार को गाजा पट्टी में हुए हवाई हमले की जिम्मेदारी इस्राइली वायु सेना (आईडीएफ) ने लेने से मना कर दिया है। इस्राइली वायु सेना ने इस हमले के लिए फलस्तीनी इस्लामिक जिहाद सैन्य समूह के असफल रॉकेट लॉन्च को जिम्मेदार ठहराया है। इस्राइली वायु सेना ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स (ट्विटर) पर पोस्ट करते हुए कहा, आईडीएफ की परिचालन प्रणालियों के विश्लेषण के अनुसार, इस्राइल की तरफ रॉकेटों की श्रृंखला छोड़ी गई थी जो अस्पताल के आसपास से गुजरी। इस हमले के लिए इस्लामिक जिहाद आतंकी संगठन जिम्मेदार है। 

बताया जा रहा है इस्राइल के इस हमले में करीब 300 लोगों की मौत हो गई है। वहीं गाजा पट्टी स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस हमले में 500 लोगों के मरने की सूचना दी है। फलस्तीन के एक अधिकारी ने इस हमले को नरसंहार बताया है। उन्होंने कहा, अब चुप्पी को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

बंधक बनाए गए लोगों को रिहा करने के लिए तैयार हुआ हमास

सात अक्तूबर को ऑपरेशन अल-अक्सा फ्लड बैटल के तहत हमास ने इस्राइल पर घातक हमला किया था। इस हमले के दौरान हमास के आतंकियों ने सैकड़ों इस्राइली नागरिकों को गाजा पट्टी में बंधक बना लिया। हमास के अधिकारी ने बताया कि उन्होंने करीब 200-250 लोगों को बंधक बनाकर रखा है।

मंगलवार को गाजा सिटी अस्पताल पर हमले के बाद हमास बंधक बनाए गए लोगों को रिहा करने को तैयार हो गया, लेकिन इसके लिए उसने इस्राइल के सामने एक शर्त रख दी है। हमास ने कहा कि यदि इस्राइल गाजा पर हमला करना बंद कर दे तो वह सभी बंधकों को रिहा कर देगा। सोमवार को इस्राइल गाजा को पानी की आपूर्ति फिर से शुरू करने पर सहमत हुआ।

spot_img
- Advertisment -spot_img

ताज़ा ख़बरें